नई दिल्ली, जेएनएन। क्रिकेट भारत में इतना लोकप्रिय है कि इसे यहां धर्म की तरह पूजा जाता है। शायद इसी वजह से यहां गली-गली में लोग क्रिकेट से जुड़े किसी मुद्दे पर राय देेने से नहीं थकते। फिर चाहे वो किसी खिलाड़ी का प्रदर्शन हो या टीम में चयन। इससे जुड़ी हर पहलू का लोग विश्लेषण करते हैं। इसके मद्देनजर कहा जा सकता है कि भारतीय टीम पर बहुत दबाव होता है। खासकर विश्व कप जैसी प्रतियोगिता में तो इनपर और भी दबाव होता है। इंग्लैंड में 30 मई से विश्व कप (ICC WORLD CUP 2019) खेला जाना है और भारतीय टीम के एलान कर दिया गया है। ऐसे में भारतीय टीम को चुनने वाले चयनकर्ताओं पर कितनी बड़ी जिम्मेदारी होगी इसका अंदाजा भी लगाया जा सकता है।

साफ है इतनी बड़ी जिम्मेदारी संभालने वाले के पास अनुभव और खेल की समझ होना काफी जरूरी है। हालांकि, जिन्होंने भारतीय टीम का चयन किया उनके पास वनडे का कुछ खास अनुभव नहीं है। इस समिति में मुख्य चयनकर्ता की भूमिका में एमएसके प्रसाद हैं। इसके अलावा इसमें सरनदीप सिंह, जतिन परांजपे, गगन खोड़ा और देवांग गांधी भी हैं। इन सभी ने कुल मिलाकर 30 वनडे मैच खेले हैं। आइए नजर डालते हैं इनके वनडे करियर पर। 

एमएसके प्रसाद 
43 वर्ष के एमएसके प्रसाद का पूरा नाम मन्नवा श्रीकांत प्रसाद है। इन्होंने भारत के लिए 17 मैच खेले हैं। इस दौरान उन्होंने 14.56 की औसत से कुल 131 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने केवल एक पचासा लगाया है। प्रसाद का उच्चतम स्कोर 63 है। प्रसाद एक विकेटकीपर बल्लेबाज थे। विकेट के पिछे उन्होंने 14 कैच लपके और 7 स्टंप किए। 

सरनदीप सिंह
पंजाब के दाएं हाथ के इस ऑफ स्पिनर ने भी भारत के लिए काफी कम मैच खेले हैं। सरनदीप ने भारत के लिए 5 वनडे खेले हैं। इसमें उन्होंने 60 की औसत से केवल तीन विकेट लिए हैं। बल्लेबाजी में इन्होंने 15.66 की औसत से 47 रन बनाए हैं। हालांकि, वे एक गेंदबाज थे इस वजह से बल्लेबाजी का प्रदर्शन कुछ खास मायने नहीं रखता, लेकिन वे गेंदबाजी में भी कुछ खास नहीं कर सके।   

जतिन परांजपे
मुंबई के जतिन परांजपे ने केवल 4 वनडे मैच खेले हैं। उन्होंने इस दौरान 18 की औसत से केवल 54 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका उच्चतम स्कोर 27 रन रहा। चोट की वजह से इनका करियर लंबा नही खींच सका। 

गगन खोड़ा 
राजस्थान के दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने भारत के लिए केवल दो वनडे मैच खेले हैं। इस दौरान उन्होंने 57.50 की औसत से 115 रन बनाए। इसमें एक पचासा शामिल है। उनका उच्चतम स्कोेर 89 रहा। 

देवांग गांधी 
घरेलू क्रिकेट में बंगाल से खेलने वाले सलामी बल्लेबाज देवांग गांधी ने भारत के लिए केवल दो वनडे खेले हैं। इस दौरान इन्होंने 16.33 की औसत से केवल 49 रन बनाए हैं। इस दौरान इनका उच्चतम स्कोर 30 रहा। 

Posted By: Tanisk