नई दिल्ली, आइएएनएस। भारतीय क्रिकेटर हरभरजन सिंह और मोहम्मद शमी ने पिछले महीने संयुक्त राष्ट्र महसभा (UNGA) में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के धमकी से भरा और नफरत फैलाने वाले भाषण की कड़ी आलोचना की है। तेज गेंदबाज शमी ने महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर ट्वीट कर कहा, 'महात्मा गांधी ने अपना जीवन प्रेम, सद्भाव और शांति के संदेश को फैलाने में बिताया। संयुक्त राष्ट्र के मंच से इमरान खान ने धमकी दी और घृणा फैलाने की कोशिश की। पाकिस्तान को एक ऐसे नेता की ज़रूरत है जो विकास, नौकरियों और आर्थिक विकास की बात करे, युद्ध और आतंकवाद को बढ़ावा देने की नहीं। 

इमरान का भाषण नफरत बढ़ाएगा

हरभजन सिंह ने ट्वीट में इमरान की आलोचना करते हुए लिखा, ' इमरान ने यूएनजीए में भाषण के दौरान भारत को संभावित परमाणु युद्ध का संकेत दिया गया। एक प्रमुख खिलाड़ी के रूप में, इमरान खान के शब्द 'ब्लडबाथ' और 'अंत तक लड़ाई' दोनों देशों के बीच नफरत को और बढ़ाएंगे। एक साथी खिलाड़ी के रूप में मैं उनसे शांति को बढ़ावा देने की उम्मीद करता हूं।' 

गौतम गंभीर का इमरान पर हमला

इससे पहले भाजपा नेता और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर भी इमरान खान के इस भाषण की आलोचना कर चुके हैं। उन्होंने इमरान को आतंकियों का रोल मॉडल बताया था और खेल समुदाय से बाहर करने की बात कही थी।  

इमरान ने UNGA में क्या बोला

बता दें कि 27 सितंबर को UNGA में बोलते हुए, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ने दोनों देशों के बीच युद्ध की धमकी देते हुए कहा था कि मामला हाथ से निकल चुका है। परमाणु हथियारबंद पड़ोसियों के बीच पारंपरिक युद्ध की धमकियों को नियंत्रण से बाहर कर दिया था। उन्होंने इस दौरान दुनिया को इस्लामोफोबिया से ग्रसित बताया। साथ ही भारत, कश्मीर में मुसलमानों पर अत्याचार कर रहा है। 

मुस्लमान हथियार उठा लेंगे

इस दौरान इमरान ने भड़काऊ बयान देते हुए कहा कि न्याय नहीं मिला तो मुस्लमान हथियार उठा लेंगे। हालांकि, यह ऐसा पहला अवसर नहीं था जब पाकिस्तान से इस तरह का बयान आया हो। कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से पाकिस्तानी लगातार ऐसा बयान दे रहे हैं।  

यह भी पढ़ें: गौतम गंभीर ने खेल के जरिए इमरान खान को दिखाया आईना, कही यह शानदार बात

Posted By: Tanisk

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप