नई दिल्ली, जेएनएन। श्रीलंकाई महिला क्रिकेट टीम को 22 साल वनडे क्रिकेट खेलते हुए हो गए हैं, लेकिन अभी तक एक खिलाड़ी को छोड़कर कोई भी शतक नहीं जड़ पाया है। साल 1997 में श्रीलंका की महिला टीम ने पहली बार वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में भाग लिया था। इस बात को आज 22 साल हो गए हैं, लेकिन एक भी महिला खिलाड़ी ऐसी नहीं हुई है, जिसने तीन अंकों में स्कोर में किया हो। 

हैरान करने वाले हैं आंकड़े

29 वर्षीय चमारी अटापट्टू अब तक श्रीलंका के लिए वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में 5 शतक जड़ चुकी हैं। वहीं, बाकी श्रीलंका की महिला खिलाड़ी 100 के आसपास भी नहीं पहुंची हैं। आपको बता दें, श्रीलंकाई महिला टीम में अब तक 72 खिलाड़ियों ने टीम में जगह बनाई है, लेकिन कभी भी चमारी अटापट्टू के अलावा किसी भी खिलाड़ी के बल्ले से शतक नहीं निकला है। 

पांच शतक अटापट्टू के नाम

श्रीलंकाई महिला टीम की ओर से अब तक वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में 5 शतक बने हैं और ये पांचों शतक चमारी अटापट्टू के बल्ले से निकले हैं। हैरान करने वाली बात ये भी है कि श्रीलंकाई टीम के लिए जो सात सबसे बड़े निजी स्कोर हैं उनमें भी चमारी अटापट्टू का ही नाम शामिल है। इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस टीम की बल्लेबाजी चमारी अटापट्टू के इर्द-गिर्द घूमती है। 

7 निजी स्कोर भी अटापट्टू के नाम

श्रीलंका की ओर से सबसे बड़े 7 निजी स्कोर चमारी अटापट्टू के नाम है। इसमें 178 रन, 115 रन, 111 रन, 106 और 103 रन के अलावा 99 रन और 94 रन की पारी भी शामिल है। इसके बाद आठवें नंबर पर वसंती रत्नायके का नाम है। हालांकि, ये खिलाड़ी भी 90 रन के पार नहीं जा पाई है। वसंती ने पाकिस्तान के खिलाफ 2002 में 88 रन की पारी खेली थी। चमारी ने बुधवार को ऑस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ अपना पांचवां शतक जड़ा है। 

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप