नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे मैच में जीत से कहीं ज्यादा जरूरी था पाकिस्तान के लिए बाबर आजम का फॉर्म में आना और कराची स्टेडियम पर उन्होंने अपनी बल्लेबाजी का वो नजारा भी दिखा दिया जिसका इंतजार एशिया कप में था। पूरे एशिया कप में पाकिस्तान के फैंस इस बात का इंतजार करते रहे कि बाबर के बल्ले से रन निकले लेकिन ऐसा नहीं हुआ जिसका खामियाजा यह हुआ कि ट्राफी श्रीलंका ने जीत ली।

लेकिन टी20 वर्ल्ड कप से ठीक पहले बाबर आजम का फॉर्म में आना पाकिस्तान टीम के लिए बेहद अच्छी खबर है। बाबर आजम ने इस मैच में न केवल 66 गेंदों पर 110 रन रन की विस्फोटक पारी खेली बल्कि अपनी टीम को 10 विकेट से ऐतिहासिक जीत दिलाकर 7 मैचों की टी20 सीरीज में 1-1 की बराबरी करा दी। उन्होंने अपनी इस शतकीय पारी में 11 चौके और 5 छक्के लगाए और मोहम्मद रिजवान के साथ मिलकर 203 रन की नाबाद साझीदारी की।

बाबर ने कोहली को पीछे छोड़ा

बाबर आजम ने इस पारी में विराट कोहली के दो रिकॉर्ड को पीछे छोड़ा दिया। वह टी20 क्रिकेट में सबसे तेज 8,000 रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज बन गए। उन्होंने इस मामले में भारत के पूर्व कप्तान और स्टार बल्लेबाज विराट कोहली को पीछे छोड़ दिया। बाबर ने केवल 218 इनिंग्स में अपने 8,000 रन पूरे कर लिए जबकि कोहली को इसके लिए 243 इनिंग्स लगे थे। इतना ही नहीं बाबर ने इसी पारी के दौरान कोहली के एक और रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया। उन्होंने जैसे ही अपनी फिफ्टी पूरी की उन्होंने विराट कोहली क 82 इनिंग्स मं 27 T20I फिफ्टी का रिकॉर्ड तोड़ दिया। उन्होंने इसके लिए कोहली से 5 इनिंग्स कम लिए और केवल 77 इनिंग्स में यह मुकाम हासिल कर लिया।

मैच की बात करें तो पहले बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड की टीम ने 5 विकेट खोकर 199 रन बनाए थे लेकिन 200 के इस बड़े लक्ष्य को बाबर और रिजवान की जोड़ी ने बिना कोई विकेट गंवाए 3 गेंद पहले ही हासिल कर लिया।

Edited By: Sameer Thakur