नई दिल्ली, प्रदीप सहगल। बर्मिंघम में भारत को पहले टेस्ट मैच में 31 रन से हार का सामना करना पड़ा। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने भी घुमा-फिरा कर बल्लेबाज़ों की नाकामी को इस हार का ज़िम्मेदार ठहराया। कप्तान ने तो एजबेस्टन में पहले शतक और फिर अर्धशतक जमाकर दिखा दिया कि वो इस बार इंग्लैंड में खुद को साबित करने के लिए आए हैं, लेकिन भारतीय टीम के उप-कप्तान को क्या हुआ है? अजिंक्य रहाणे जिनसे उम्मीद थी कि वो इंग्लैंड में जाकर भारतीय टीम के संकटमोचक बनेंगे उन्होंने ही टीम को मझधार में छोड़ दिया। अब तो पूर्व दिग्गज खिलाड़ियों ने भी उनपर सवाल उठाने शुरू कर दिए हैं।

रहाणे कब बरसाओगे रन

अजिंक्य रहाणे ने इंग्लैंड के खिलाफ खेले एजबेस्टन टेस्ट मैच में पहले 15 और फिर 02 रन बनाए। माना कि सिर्फ रहाणे ही नहीं उस टेस्ट में कोहली को छोड़कर सभी बल्लेबाज़ फेल हो गए, लेकिन रहाणे उप-कप्तान हैं उनसे टीम मैनेजमेंट ये उम्मीद करती है कि वो भारत को संकट से उबारेंगे, लेकिन ये खिलाड़ी तो टीम पर उल्टा दबाव बना रहा है। ये काम वो पिछले एक साल से कर रहे हैं। क्या आप जानते हैं कि रहाणे ने पिछला टेस्ट शतक कब लगाया था? उन्होंने पिछला टेस्ट शतक एक साल पहले (अगस्त 2017) कोलंबो में जड़ा था। उस मैच में रहाणे ने 132 रन की पारी खेली थी। तब के बाद से ये खिलाड़ी एक अर्धशतक तक लगाने के लिए तरस रहा है। 

रहाणे के पिछले एक साल के आंकड़े 

शतक तो दूर की बात है रहाणे ने पिछले एक साल में अर्धशतक तक भी नहीं लगाया और इस दौरान उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर रहा है 48 रन। ये स्कोर उन्होंने द. अफ्रीका के खिलाफ जोहानिसबर्ग टेस्ट की दूसरी पारी में बनाया था। श्रीलंका में शतक लगाने के बाद से रहाणे ने 7 टेस्ट मैच की 11 पारियों में 118 रन बनाए हैं। इस दौरान वो सिर्फ छह बार ही दहाई का आंकड़ा पार करने में कामयाब हुए हैं। अब रहाणे जेसे खिलाड़ी से ऐसी उम्मीद तो नहीं कि जा सकती, वो भी तब जब वो सफेद कपड़ों की क्रिकेट में भारतीय टीम के उप-कप्तान भी हों।

लक्ष्मण ने उठाए रहाणे पर सवाल

टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी वीवीएस लक्ष्मण ने राहणे के पहले टेस्ट मैच में आउट होने पर सवाल उठाए हैं। उनका कहना है कि रहाणे ने जिस तरह से बर्मिंघम टेस्ट की दोनों पारियों में विकेट गंवाया वो चिंता का विषय है। दोनो बार वो एक ही तरीके से आउट हुए और गेंद को अपने शरीर से दूर तो खेला ही साथ ही साथ उन्होंने बाहर जाती के साथ छेड़छाड़ भी की, लेकिन इसके साथ ही लक्ष्मण ने कहा कि रहाणे एक वर्ल्ड क्लास खिलाड़ी है और वो अपनी इन खामियों को दूर कर लेंगे।

 

रहाणे को लॉर्ड्स में देना चाहिए मौका

पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली का कहना है कि रहाणे को ज़िम्मेदारी के साथ खेलना चाहिए और आगे आना चाहिए। रहाणे ने इंग्लैंड में रन बनाए हुए हैं तो उन्हें बस खुद पर भरोसा दिखाना होगा और क्रीज़ पर थोड़ा समय बिताना होगा और एक बार अगर वो सेट हो गए तो फिर रन बनने लग जाएंगे। आपको बता दें कि 2014 के इंग्लैंड दौरे पर रहाणे ने लॉर्ड्स टेस्ट में शानदार 103 रन की पारी खेली थी। इसके साथ ही साथ साउथैंप्टन टेस्ट की दोनों पारियों में भी रहाणे ने अर्धशतक जड़े थे।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Pradeep Sehgal