नई दिल्ली, [जागरण स्पेशल]। पोर्ट एलिजाबेथ में 73 रन से जीत हासिल कर टीम इंडिया ने इतिहास रच दिया। एक तो ये इस मैदान पर टीम इंडिया की पहली जीत रही इसके साथ ही साथ भारतीय टीम ने दक्षिण अफ्रीका में वनडे सीरीज जीतने का अपना सपना भी साकार कर लिया। सेंट जॉर्ज पार्क में खेले गए इस मैच के दौरान कई सारे रिकॉर्ड भी बनें, तो चलिए हम आपको बताते हैं उन रिकॉर्ड के बारे में।

भारत ने जीती लगातार 9 वनडे सीरीज़

टीम इंडिया ने वनडे सीरीज अपने नाम करने के साथ ही लगातार 9 द्विपक्षीय वनडे सीरीज जीत ली है। भारतीय टीम ने जून 2016 के बाद से अभी तक लगातार 9 वनडे सीरीज़ अपने नाम की हैं। इस जीत के साथ ही भारत ने ऑस्ट्रेलिया के लगातार 8 द्विपक्षीय वनडे सीरीज़ जीतने के रिकॉर्ड को तोड़ दिया। ऑस्ट्रेलिया ने अप्रैल 2009 से जून 2010 के बीच लगातार 8 द्विपक्षीय वनडे सीरीज़ जीती थी। वनडे क्रिकेट में लगातार 14 द्विपक्षीय वनडे सीरीज जीतने का विश्व रिकॉर्ड वेस्टइंडीज के नाम है और इस लिस्ट में दूसरा नाम अब भारतीय टीम का आता है।

कोहली ने दिग्गजों को छोड़ा पीछे

टीम इंडिया की जीत के साथ ही भारतीय कप्तान विराट कोहली ने भी एक रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। विराट कोहली ने वेस्टइंडीज के दिग्गज कप्तानों में शुमार सर क्लाइव लॉयड और सर विवियन रिचर्ड्स के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। 40 मैचों में कप्तानी करते हुए सबसे ज्यादा जीत हासिल करने के मामले में कोहली दूसरे नंबर पर आ गए हैं। कोहली ने 40 वनडे मैचों में कप्तानी करते हुए अपनी टीम को 32 बार जीत दिलाई है। इस लिस्ट में पहले नंबर पर नाम ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज कप्तान रिकी पोंटिंग का है। रिकी पोंटिंग ने अपनी टीम को 40 में से 33 बार जीत दिलाई थी। वहीं क्लाइव लॉयड और सर विवियन रिचर्ड्स ने अपनी टीम को 31 बार जीत दिलाई थी।

धवन ने भी हासिल की ये उपलब्धि

मौजूदा वनडे सीरीज़ में धवन 300 से ज़्यादा रन बनाने वाले दूसरे बल्लेबाज़ बन गए। धवन से पहले विराट कोहली इस सीरीज़ में 300 रन का आंकड़ा छू चुके हैं। आपको बता दें कि ये पहला मौका है जब द. अफ्रीका की धरती पर वनडे सीरीज़ में भारतीय बल्लेबाजों ने 300 रन का बनाए हों। इससे पहले यहां पर भारत के लिए एक सीरीज़ में सबसे ज़्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड  सौरव गांगुली के नाम था। गांगुली ने 1999-2000 में 285 रन बनाए थे।

यह भी पढ़े: इस तरह से भारतीय टीम ने द. अफ्रीका में रचा इतिहास, पोर्ट एलिजाबेथ में भी बदला रिकॉर्ड

16 साल बाद द. अफ्रीका के साथ हुआ ऐसा

द. अफ्रीका की टीम अपने घर पर 5 या उससे ज़्यादा वनडे मैचों की सीरीज़ में तीसरी बार हारी है। इससे पहले 5 से ज़्यादा वनडे मुकाबलों की सीरीज़ में ऑस्ट्रेलिया ने उसे दो बार मात दी थी। ऑस्ट्रेलिया ने 1996-97 और 2001-02 में प्रोटियाज को घर में पस्त किया था।    

भारत ने पहली बार जीती वनडे सीरीज़

इस जीत के साथ ही टीम इंडिया ने 6 मैचों की वनडे सीरीज में 4-1 की बढ़त बना ली है। दक्षिण अफ्रीका की धरती पर यह टीम इंडिया की पहली वनडे सीरीज जीत रही। इससे पहले कोई भी भारतीय टीम द. अफ्रीका में सीरीज़ नहीं जीत पाई थी।

यह भी पढ़े: टीम इंडिया को मिला वनडे सीरीज़ जीतने का इनाम, कोहली का भी बढ़ा कद

पोर्ट एलिजाबेथ में दर्ज की पहली जीत

73 रन की जीत हासिल करने के बाद टीम इंडिया ने इस मैदान के आंकड़ों को भी बदल दिया है। इस मैच से पहले सेंट जॉर्ज पार्क के मैदान पर टीम इंडिया का रिकॉर्ड बेहद खराब था। इस जीत से पहले भारत ने यहां पर 05 वनडे खेले थे और इन पांच में से टीम इंडिया को सभी मैचों में मात खानी पड़ी है। चार मैचों में उसे दक्षिण अफ्रीका से और एक में केन्या से हार मिली है।  

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

 

By Pradeep Sehgal