नई दिल्ली। द क्षिण अफ्रीका में खेले जा रहे छह वनडे मैचों की सीरीज में सबसे ज्यादा चर्चा में इस वक्त युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव हैं। इन दोनों रिस्ट स्पिनर्स ने विरोधी खेमे में हलचल मचा रखी है। भारत ने प्रोटीज के खिलाफ लगातार तीन वनडे मैच जीतें हैं और इसमें इन दोनों स्पिनर्स की भूमिका अहम रही है। इन तीनों ने तीन मैचों में 5, 8 और 8 विकेट झकटे हैं। अब तक हुए तीन मैचों की बात करें तो दोनों ने विकेट लेने के मामले में तेज गेंदबाजों को काफी पीछे छोड़ रखा है। 

कुलदीप और चहल ने मिलकर वनडे सीरीज में प्रोटीज के गिरे 28 विकेटों में से 21 विकेट झटके हैं। इन दोनों का औसत 9.05 का रहा है जबकि इकॉनामी रेट 3.63 का रहा है। तीसरे वनडे मैच में प्रोटीज पर मिले 124 रन की बड़ी जीत के बाद कप्तान विराट ने कहा कि इन दोनों गेंदबाजों की तारीफ के लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं। मुझे ये देखकर काफी अच्छा लगा कि दोनों ही गेंदबाजों ने किस तरफ विपक्षी टीम को धराशाई किया है। दोनों अपने खेल पर काफी मेहनत कर रहे है।

भारतीय कप्तान विराट ने आगे कहा कि दोनों जिस तरह गेंदबाजी कर रहे हैं वैसे लगता है कि वह बल्लेबाजों से लगातार सवाल पूछते रहते हैं और ओवर में 2-3 गेंदें ऐसी रहती है जिसपर विकेट उन्हें विकेट मिल सकता है।2019 में इंग्लैंड में होने वाले विश्वकप में दोनों कलाई गेंदबाजों की भूमिका के बारे में कोहली ने कहा कि विश्वकप के दौरान कुछ इसी तरह का कंडीशन रहेगा और ऐसे में ये दोनों गेदबाजी हमारे लिए अहम भूमिका निभा सकते हैं।

आपको बता दें कि रिस्ट स्पिनर्स के साथ मैदान को लेकर कोई ज्यादा परेशानी नहीं रहती। ये स्पिनर्स दुनिया की किसी भी पिच पर स्पिन करा सकते हैं और ये द. अफ्रीका में दिख भी रहा है। फिलहाल ऐसा लगता है कि प्रोटीज बल्लेबाजों के पास इनका कोई तोड़ नहीं है। इन दोनों का प्रदर्शन दिन ब दिन और कमाल का होता जा रहा है। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें


 

Posted By: Sanjay Savern