नई दिल्ली, जेएनएन। टीम इंडिया को वर्ल्ड कप 2019 के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों मिली हार के बाद आलोचनाओं का शिकार होना पड़ रहा है। आलोचना इस समय टीम इंडिया नहीं बल्कि टीम मैनेजमेंट के फैसलों की हो रही है, जिसमें अब युवराज सिंह भी शामिल हो गए हैं। युवराज सिंह ने नंबर चार को लेकर टीम मैनेजमेंट को घेरा है। युवराज सिंह ने अंबाती रायुडू को लेकर कहा है कि टीम मैनेजमेंट ने उसके साथ अच्छा नहीं किया। 

वर्ल्ड कप 2019 के लिए टीम इंडिया का ऐलान होने से पहले अंबाती रायुडू नंबर चार के लिए सबसे बड़े विकल्प थे लेकिन उनका नाम 15 सदस्यीय टीम में शामिल नहीं किया गया। अंबाती रायुडू की जगह विजय शंकर को टीम में जगह दी गई और उन्हें स्टैंडबाय प्लेयर रखे गए। लेकिन, शिखर धवन और खुद विजय शंकर के टीम से चोट की वजह से बाहर होने के बाद टीम में शामिल नहीं किया गया तो अंबाती रायुडू ने क्रिकेट से संन्यास ले लिया।   

युवराज सिंह ने कहा है कि टीम मैनेजमेंट को इस बात के लिए खिलाड़ियों को स्पष्ट कर देना चाहिए कि उसे नंबर चार पर खेलना और वर्ल्ड कप में उसे मौका मिलेगा। अंबाती रायुडू भी नंबर चार के लिए विराट कोहली की पहली पसंद थे, फिर भी उन्हें निराशा हाथ लगी। अंबाती रायुडू एक दो मैचों फेल हो गए इसका मतलब ये नहीं कि वे आगे भी फेल साबित होते लेकिन टीम मैनेजमेंट ने इसे उचित नहीं समझा और टीम हार गई। 

युवराज सिंह ने कहा, "ये बात बहुत निराश करने वाली है जो अंबाती रायुडू के साथ टीम मैनेजमेंट ने किया। वो वर्ल्ड कप के लिए तैयार थे। अंबाती रायुडू ने न्यूजीलैंड में रन बनाए लेकिन उसके बाद वे तीन - चार पारियों में रन नहीं बना सके तो उन्हें ड्रॉप किया गया। उनकी जगह रिषभ पंत को लिया गया और उन्हें ड्रॉप कर दिया है। अगर नंबर चार वनडे क्रिकेट में महत्वपूर्म पोजिशन है तो फिर खिलाड़ियों को बैक करना होगा।  

Posted By: Vikash Gaur