(हर्षा भोगले का कॉलम)

इतने साल से मुझे एक बात ने काफी हैरान किया है कि आखिर क्या वो बात है जो इस लीग को इतना लोकप्रिय बनाती है। एक ऐसा टूर्नामेंट जिसका हिस्सा दुनिया का हर शीर्ष क्रिकेटर होना चाहता है। इसके कई कारण हैं। भारत में क्रिकेट प्रशंसकों की फौज। क्रिकेट जगत में भारत का अहम स्थान। लुभावने टेलीविजन राइट्स जो क्रिकेटरों की जिंदगी बदल सकते हैं। स्वाभाविक है कि दुनिया के बेहतरीन क्रिकेटर यहां होना चाहते हैं।

दुनियाभर की फुटबॉल लीग में भी ऐसा ही होता है। मुझे लगता है कि एक और वजह है जिसके लिए इस लीग को उस टीम का शुक्रिया अदा करने की जरूरत है जिसने इसकी संकल्पना की और शर्तें तय कीं। जिस दिन टीमों के पास समान पैसे रखने का पर्स दिया गया, उसी दिन लीग के निष्पक्ष होने की नींव भी रखी गई। ये ऐसी बात है जिसका टूर्नामेंट को आज भी लाभ मिल रहा है।

टूर्नामेंट में हमारे पास आठ टीम हैं, जिनके पास दुनिया के बेहतरीन खिलाड़ियों को साइन करने का बराबर का अधिकार हैं इसके लिए निष्पक्ष नीलामी का विकल्प है। ये व्यवस्था सुनिश्चित करती है कि कोई भी जीतने के लिए सिर्फ सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों से अपनी टीम नहीं भर सकती, जैसा कि फुटबॉल में अक्सर नजर आता है, जहां जीतने के लिए ऐसा किया जाता है। निष्पक्ष खेल की बात इसलिए भी सच है क्योंकि लुभावनी टेलीविजन राइट्स डील पहली गेंद फेंके जाने से पहले ही फ्रेंचाइजियों को लाभ की स्थिति में ले आती है।

हर टीम सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के लिए बड़ी रकम खर्च कर सकती है और इसका असर हमने पिछले हफ्ते के कुछ मुकाबलों में देखा। टीम अंक तालिका में कहीं भी हो, अपना दिन होने पर किसी भी टीम को हरा सकती है। सातवें और आठवें नंबर की टीम ने आसानी से अंक तालिका की शीर्ष टीम को हरा दिया। इस टूर्नामेंट में आप खिताब या शीर्ष चार का स्थान खरीद नहीं सकते।

इस बराबरी के माहौल में कुछ टीमें बहुत चतुराई से खिलाड़ियों को चुनती हैं और उन्हें कम कीमत पर हासिल कर लेती हैं। वो इसलिए क्योंकि अन्य टीमों ने उस खिलाड़ी की पहचान नहीं की होती। कुछ फ्रेंचाइजी टीम में ऐसा माहौल और व्यवस्था बनाते हैं, जिससे खिलाड़ियों का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन बाहर निकलवाया जा सके और उन्हें ये अहसास हो कि टीम को उनकी जरूरत है। आप किसी खेल प्रतियोगिता में यही तो देखना चाहते हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस