एंटीगुआ, एएनआइ। ICC Cricket World Cup 2019: वेस्टइंडीज के प्लेयर और उसकी वर्ल्ड कप टीम का हिस्सा कार्लोस ब्रैथवेट खुद को एक वर्सेटाइल ऑलराउंडर समझते हैं। इसी की लेकर कार्लोस ब्रैथवेट ने कहा है कि वे वर्ल्ड कप में किसी भी भूमिका में फिट हो सकते हैं। साल 2016 में टी20 वर्ल्ड कप के फाइनल में इंग्लैंड के खिलाफ बेन स्टोक्स के ओवर में चार गेंदों में चार छक्के लगाकर वेस्टइंडीज को चैंपियन बनाने वाले कार्लोस ब्रैथवेट बल्लेबाजी करने में सक्षम हैं।

इसके अलावा कार्लोस ब्रैथवेट गेंदबाजी भी ठीकठाक कर लेते हैं, जो कि वेस्टइंडीज के लिए इंग्लैंड में प्लस प्वाइंट साबित हो सकता है। इस बारे में कार्लोस ब्रैथवेट का कहना है, "जब मुझे चुना गया तो देखा गया है कि मैं बीच के ओवरों में अच्छी गेंदबाजी करता हूं। साथ ही साथ डेथ ओवर्स में भी तेज गेंदबाजों का साथ दे सकता हूं। इसके अलावा आखिरी के ओवर्स में तेजी से रन बनाकर में टोटल को आगे ले जाने में सक्षम और मैच भी फिनिश कर सकता हूं।"

लंबे कद के दाएं हाथ के बल्लेबाज कार्लोस ब्रैथवेट ने इंग्लैंड में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक अनाधिकारिक अभ्यास मैच में 64 गेंदों में 60 रन बनाए थे, जिसमें पांच चौके और 3 छक्के शामिल थे। इस बात को लेकर कार्लोस ब्रैथवेट ने कहा है, "परिस्थिति चाहे जैसी हो मैं खुद को उसमें ढाल सकता हूं। फिर चाहे इतने रन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलते हुए धीमे से बनाए जान हों या फिर 3 ओवर में इतने रन तेज गति से बनाने हों। मैं ऐसा कर सकता हूं, जो कि वेस्टइंडीज टीम के जीतने के लिहाज से अच्छा है।

बता दें कि वेस्टइंडीज अब तक दो बार वर्ल्ड कप की विजेता रही है। दोनों बार टीम ने क्लाइव लॉयड की कप्तानी में वर्ल्ड कप के शुरुआती दो सीजन जीते हैं। पहले सीजन में साल 1975 में वेस्टइंडीज ने ऑस्ट्रेलिया और साल 1979 में इंग्लैंड को हराकर खिताब अपने नाम किया था। इस बार 30 मई से इंग्लैंड और वेल्स में ये टूर्नामेंट खेला जाना है, जिसमें वेस्टइंडीज अपना पहला मुकाबला 31 मई को पाकिस्तान के खिलाफ नॉटिंघम में खेलेगी।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Vikash Gaur