मुंबई, पीटीआइ। क्रिकेटर से नेता बने गौतम गंभीर ने वर्ल्ड कप को लेकर टीम इंडिया की 15 सदस्यीय टीम पर निशाना साधा है। गौतम गंभीर ने भारतीय टीम में वर्ल्ड कप के लिए एक बड़ी कमी को उजागर किया है। गौतम गंभीर का मानना है कि टीम इंडिया में एक क्वालिटी फास्ट बॉलर की कमी है। दो बार की चैंपियन टीम इंडिया  वर्ल्ड कप में 5 जून से साउथेम्पटन में अपना पहला मुकाबला साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेलेगी।  

साल 2007 में टी20 और साल 2011 में टीम इंडिया को वर्ल्ड कप जिताने वाले बाएं हाथ के बल्लेबाज गौतम गंभीर ने कहा, "मैं सोचता हूं कि टीम में एक क्वालिटी पेसर की कमी है। जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और भुवनेश्वर कुमार को ज्यादा सपोर्ट की जरूरत है। आप कह सकते हैं कि भारत के पास ऑलराउंडर के रूप में हार्दिक पांड्या और जसप्रीत बुमराह जैसे तेज गेंदबाज हैं। लेकिन मैं इन पर भरोसा नहीं कर सकता। ये खिलाड़ी टीम के संयोजन के लिए एकदम फिट हैं।

सिएट क्रिकेट रेटिंग इंटरनेश अवार्ड्स को संबोधित करते हुए गौतम गंभीर ने टीम के संयोजन पर सवाल उठाए हैं। हालांकि, गंभीर को टीम पर अभी भी भरोसा है। ईस्ट दिल्ली से बीजेपी की टिकट से लोकसभा चुनाव लड़ रहे गौतम गंभीर ने कहा, "यह बहुत अच्छा टूर्नामेंट है क्योंकि हर टीम को हर दूसरी टीम से भिड़ने का मौका मिलेगा। रोबिन राउंड फॉर्मेट असल में रियल चैंपियन देगा। मैं मानता हूं कि आगे भी इसी तरह के फॉर्मेट में वर्ल्ड हो।"

वर्ल्ड कप 2019 के लिए गौतम गंभीर ने भारत के साथ-साथ ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और न्यूजीलैंड को अपनी पसंदीदा टीमों में शामिल किया है। गंभीर का मानना है कि इस समय ऑस्ट्रेलिया के पास अच्छी बॉलिंग लाइनअप है। वहीं, इंग्लैंड को मेजबानी का फायदा मिल सकता है। साथ ही साथ न्यूजीलैंड ने पिछले कुछ समय में अच्छा प्रदर्शन किया है। इस लिहाज से न्यूजीलैंड भी फेरबदल कर सकती है। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप