नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। विराट कोहली की खराब फॉर्म को लेकर एक तरफ जहां कुछ लोग उनकी आलोचना कर रहे हैं तो कुछ ऐसे भी हैं जो उनकी सपोर्ट में खड़े हैं। विराट कोहली को सपोर्ट करने वालों में एक नाम श्रीलंका क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान व मुंबई इंडियंस टीम के कोच महेला जयवर्धने का भी जुड़ गया है। महेला का मानना है कि विराट कोहली अपनी फार्म को वापस पाने में पूरी तरह से सक्षम हैं। विराट कोहली को एशिया कप 2022 के लिए घोषित की गई टीम में शामिल किया गया है। एशिया कप 2022 का आयोजन 27 अगस्त से लेकर 11 सितंबर पर यूएई में किया जाएगा। 

महेला ने आइसीसी रिव्यू कार्यक्रम में कहा कि विराट कोहली अभी जिस स्थिति से गुजर रहे हैं वो दुर्भाग्यपूर्ण है, लेकिन वह बेहतरीन खिलाड़ी हैं। मेरा मानना है कि विराट के पास इस दौर से बाहर निकलने के लिए सभी साधन हैं। उन्होंने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि वह इस खराब दौर से उबरने में सफल रहेंगे। फॉर्म अस्थायी होती है जबकि आपका कौशल स्थाई होता है। आपको बता दें कि केएल राहुल कोविड19 की वजह से वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 सीरीज में नहीं खेल पाए थे, लेकिन उनकी एशिया कप के लिए उप कप्तान के रूप में वापसी हो गई है।

महेला जयवर्धने ने केएल राहुल की फॉर्म को लेकर भी चर्चा की और बताया कि लंबे समय से मैच नहीं खेलने की वजह से उन्हें भी  परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। उन्होंने कहा कि केएल राहुल का कम क्रिकेट खेलना भारत के लिए चिंता का विषय हो सकता है। वो आइपीएल 2022 के बाद से लगातार बाहर थे और ऐसे में उनके लिए क्रीज पर समय बिताना अहम होगा। जयवर्धने ने कहा कि उन्हें जितना जल्दी मैच खेलने को मिले और वह जितना समय क्रीज पर बिताते हैं उससे उनका आत्मविश्वास बढ़ेगा। इससे उन्हें और भारतीय टीम को फायदा होगा। 

श्रीलंका के इस पूर्व कप्तान का मानना है कि अगर राहुल वापसी पर प्रभाव नहीं छोड़ पाते हैं तो भारत को रोहित शर्मा के साथ बाएं हाथ के किसी बल्लेबाज विशेषकर रिषभ पंत को पारी का आगाज करने के लिए भेजना चाहिए। पंत ने इंग्लैंड के खिलाफ जुलाई में दो टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों में पारी की शुरुआत की थी। जयवर्धने ने कहा कि रिषभ पंत भले ही घरेलू स्तर पर पर्याप्त मौकों पर पारी की शुरुआत नहीं की हो लेकिन वह ऐसा करने में सक्षम है। वह किसी भी नंबर पर बल्लेबाजी करें आप उनका खेल नहीं बदल सकते। वह नैसर्गिक खिलाड़ी हैं और वो ओपनर के तौर पर भारत के लिए एक अच्छा विकल्प हो सकते हैं। 

Edited By: Sanjay Savern