नई दिल्ली, जेएनएन। जसप्रीत बुमराह इस वक्त भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण के अगुआ हैं और वो टीम इंडिया के सबसे बेहतरीन तेज गेंदबाज भी हैं। बुमराह की फिटनेस टीम इंडिया के लिए काफी अहम है और इसे लेकर पूर्व भारतीय ओपनर बल्लेबाज गौतम गंभीर ने अपनी राय दी है। गंभीर ने कहा कि, बुमराह लगातार बल्लेबाजों पर दवाब बनाए रखते हैं और उनकी फिटनेस का ख्याल रखना चाहिए। उन्होंने कहा कि, ये जरूरी नहीं है कि वो इंग्लैंड के खिलाफ होने वाले चार मैचों की टेस्ट सीरीज के सभी मुकाबले खेलें। 

गंभीर ने कहा कि, बुमराह जिस लेंथ पर गेंदबाजी करते हैं और जिस तरह से विरोधी बल्लेबाजों पर दवाब डालते हैं वो कमाल का है। उन्होंने इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि उनके हाथ में नई गेंद है या फिर पुरानी, हर तरह से उनकी लय बरकरार रहती है। जब उन्होंने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत की थी उस वक्त वो गेंद को दाएं हाथ के बल्लेबाज के लिए बाहर निकालते थे और अब उसी लेंथ से गेंद को अंदर लाते हैं और इसकी वजह से वो और अधिक खतरनाक हो गए हैं। 

इस साल भारत को टी20 वर्ल्ड कप के साथ-साथ अन्य कई क्रिकेट सीरीज खेलनी है और ऐसे में बुमराह पर काफी वर्कलोड होगा। इसे लेकर गंभीर ने कहा कि, उन्होंने भारत में अब तक कोई भी टेस्ट मैच नहीं खेला है ऐसे में मुझे लगता है कि टीम प्रबंधन ने उन्हें काफी अच्छे से संभाला है। उन्होंने बुमराह को ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, साउथ अफ्रीका जैसी जगहों पर ही मौका दिया है जहां वो और ज्यादा खतरनाक गेंदबाजी करते हैं। 

गंभीर ने कहा कि मैं ये नहीं कह रहा हूं कि वो भारत में खतरनाक नहीं हैं। वो भारत में और खतरनाक हो सकते हैं, जहां विकेट धीमे और नीचे रह सकते हैं। इसके अलावा गेंद रिवर्स स्विंग भी होता है। लेकिन इसके साथ ही आपको उनका ख्याल भी रखना है क्योंकि वह लंबे समय तक आपकी गेंदबाजी आक्रमण के अगुआ रहेंगे। ऐसे में उनका फिट रहना टीम के लिए काफी जरूरी है। 

Aus-vs-Ind

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021