नई दिल्ली, जेएनएन। कोविड-19 महामारी की वजह से आइपीएल 2021 को बीच में ही स्थगित करना पड़ा। इसके बाद सबके दिमाग में यही सवाल है कि, क्या इस लीग के बाकी के बचे मुकाबले कब और कहां पर खेले जाएंगे। रिपोर्ट्स के मुताबिक इसके लिए यूएई बड़ा विकल्प है, लेकिन श्रीलंंका ने भी बीसीसीआइ से अपने यहां आइपीएल 2021 को आयोजित करवाने की पेशकश की है। फिलहाल बीसीसीआइ ने ये साफ नहीं किया है कि, आइपीएल के 14वें सीजन के बाकी के बचे मैच कहां पर आयोजित किए जाएंगे। इन सारी बातों के बीच इंग्लैंड क्रिकेट टीम के पूर्व क्रिकेटर केविन पीटरसन ने अपनी तमन्ना जाहिर करते हुए कहा कि, इस लीग के बाकी के बचे हुए मुकाबले इंग्लैंड में सितंबर महीने में आयोजित किए जाएं। 

केविन पीटरसन का मानना है कि, आइपीएल 2021 के बाकी के बचे मुकाबलों को ब्रिटेन में शिफ्ट करना सबसे अच्छा फैसला होगा। उन्होंने कहा कि,  पीटरसन का मामना है कि आईपीएल को ब्रिटेन में शिफ्ट करने का निर्णय सबसे अच्छा होगा, क्योंकि भारतीय टीम के इंग्लैंड दौरे पर पांच मैचों की टेस्ट सीरीज 14 सितंबर को खत्म होगी और उसके बाद इसके लिए समय होगा। पीटरसन ने कहा कि मैंने देखा है कि लोग सितंबर में आइपीएल के बचे हुए मैचों के आयोजन को यूएई में करने की बात कर रहे हैं, लेकिन मुझे लगता है कि इसका आयोजन इंग्लैंड में होना चाहिए। पीटरसन ने बेटवे के लिए अपने कॉलम में लिखा कि इंग्लैंड और भारत के बीच खेली जाने वाली टेस्ट सीरीज के बाद थोड़ा समय होगा। भारत के बेस्ट खिलाड़ी पहले से ही यहां होंगे, इसके साथ ही इंग्लैंड के बेस्ट खिलाड़ी भी उपलब्ध होंगे।

40 साल के इस पूर्व बल्लेबाज ने कहा कि सितंबर में इंग्लैंड का मौसम क्रिकेट मैचों की मेजबानी के हिसाब से भी अच्छा रहेगा। उन्होंने कहा कि, सितंबर के बीच से आखिर तक इंग्लैंड का मौसम सबसे अच्छा रहता है। वह मैनचेस्टर, लीड्स, बर्मिंघम और लंदन के दो मैदानों का उपयोग कर सकते हैं। इस बात की भी अच्छी संभावना है कि वहां दर्शकों की मौजूदगी होगी। क्रिकेट के लिए यह शानदार होगा। आइपीएल का आयोजन यूएई और दक्षिण अफ्रीका में हो चुका है और मुझे लगता है कि इसके बचे हुए मैचों के लिए इंग्लैंड सबसे अच्छी जगह होगी।

Edited By: Sanjay Savern