लंदन। भारतीय टेस्ट टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने स्वीकार किया कि उनके बल्लेबाजों ने चुनौतीपूर्ण हालात में गलतियां कीं। रहाणे ने कहा, 'इससे अधिक चुनौतीपूर्ण हालात नहीं मिल सकते, खासकर इस मौसम में ड्यूक गेंद के साथ। एक बल्लेबाज केतौर पर हालांकि आपको खुद पर भरोसा होना चाहिए। यह सिर्फ रन बनाने की नहीं बल्कि अच्छे डिफेंस और गेंद को छोड़ने की भी बात है। एक बल्लेबाज के लिए यहां खेलना काफी चुनौतीपूर्ण है।'

उन्होंने कहा, 'आपको अपनी गलती स्वीकार करनी होगी। इंग्लैंड में यह विकेट के पीछे लपके जाने या रन आउट होने की बात नहीं है बल्कि आपको अपनी गलती स्वीकार करके आगे बढ़ना होगा। हम जितना जल्दी अपनी गलतियों से सबक लेंगे, उतना ही अच्छा होगा। हालात वाकई चुनौतीपूर्ण थे। जेम्स एंडरसन ने एक भी शॉर्ट गेंद नहीं फेंकी। वह एक ही जगह पर गेंद डाल रहा थे जो इस विकेट पर जरूरी है। ऐसे में बल्लेबाज की तकनीक और संयम की परीक्षा होती है।' चेतेश्वर पुजारा इस साल में तीसरी बार रन आउट हुए।

रहाणे ने कहा, 'इससे बुरा तो लगता है और मुझे यकीन है कि पुजारा भी निराश होंगे। हम खराब मौसम के कारण तीन चार घंटे नहीं खेल सके और एक टीम के तौर पर बुरा लगता है।'

 

Posted By: Sanjay Savern