नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय टीम को ऑकलैंड में न्यूजीलैंड के खिलाफ लगातार दूसरी जीत मिली और इस जीत में टीम इंडिया के गेंदबाजों का जबरदस्त योगदान रहा। भारतीय टीम के गेंदबाजों ने पहली पारी मे बेहद सधी गेंदबाजी की और कीवी टीम को 135 रन पर रोक दिया। इस आसान लक्ष्य को टीम इंडिया ने 17.3 ओवर में तीन विकेट पर हासिल कर लिया और मैच में जीत दर्ज की। 

न्यूजीलैंड के विरुद्ध मिली लगातार दूसरी जीत के बाद टीम के कप्तान विराट कोहली ने टीम के गेंदबाजों की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि इस मैच में गेंदबाजों ने पूरी जिम्मेदारी से गेंदें फेंकी और मैच पर पूरा कंट्रेल बनाए रखा। जिस लाइन और लेंथ पर हमारे गेंदबाजों ने गेंदबाजी की और बहुत ही अच्छा था। हमने इस मैच में विकेट के एक ही तरफ बॉलिंग की और अपनी रणनीति को शानदार तरीके से मैदान पर लागू किया। एक टीम के तौर पर ये अच्छी बात रही। न्यूजीलैंड ने इस मैच में पांच विकेट पर 20 ओवर में 132 रन बनाए। इस पर विराट ने कहा कि ये स्कोर कम रहा और उनकी टीम ने कम टारगेट की वजह से ही धीमी शुरुआत की। मुझे लगता है कि इस पिच पर पहले बल्लेबाजी करते हुए 160 रन का स्कोर बनाया जा सकता था। 

विराट कोहली ने टीम की जीत के बारे में कहा कि हमने फील्ड के कोणों को, पिच के मिजाज को विरोधी टीम के मुकाबले ज्यादा बेहतर तरीके से समझा और इसी वजह से जीत मिली। हमें कुछ बदलाव करने पड़े, लेकिन मुझे लगता है कि रवींद्र जडेजा कमाल का प्रदर्शन कमाल का रहा। युजवेंद्रा चहल ने भी किफायती गेंदबाजी की और बुमराह की जितनी तारीफ की जाए कम है। टीम के खिलाड़ियों ने अच्छी फील्डिंग करके गेंदबाजों का मनोबल बढ़ाया और उनका समर्थन किया। इस विकेट पर गेंद रुक कर आ रही थी। 

विराट ने कहा कि जब आप इस तरह का संपूर्ण प्रदर्शन करते हैं तो आपको जीत में मदद मिलती ही है। हालांकि मुझे पता है कि न्यूजीलैंड की टीम बाउंस बैक कर सकती है। हम अागे के मैचों में भी इसी तरह का प्रदर्शन करने की कोशिश करेंगे और कीवी टीम के किसी भी चैलेंज के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। उन्होंने ये भी कहा कि हैमिल्टन में होने वाला अगला मैच ऑकलैंड से ज्यादा बेहतर होगा। 

 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस