मुंबई, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली साल 2011 में महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी में उठाए विश्व कप ट्रॉफी को आज भी नहीं भूले। श्रीलंका के खिलाफ खेला गया विश्व कप फाइनल का मुकाबला उनकी फेवरेट लिस्ट में है। वहीं साल 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गई उनकी आतिशी पारी भी पसंदीदा है। क्वार्टर फाइनल में इस पारी के दम पर भारत ने सेमीफाइनल में जगह बनाई थी।

विराट ने स्टार स्पोर्ट्स के शो क्रिकेट कनेक्टेड से जुड़ते हुए बताया कि उनके जीवन में मुंबई के वानखेडे का विश्व कप फाइनल खास है। वहीं साल 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मोहाली में हुआ टी20 विश्व कप क्वार्टर फाइनल मुकाबला भी यादगार रहेगा। नाबाद 82 रन की पारी खेल उन्होंने भारत को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मुश्किल जीत दिलाई थी।

कोहली ने कहा, "2011 विश्व कप फाइनल के अलावा मेरा दूसरा फेवरेट मैच माहौल और खेल कि लिहाज से महत्वपू्र्ण होगा 2016 का टी20 विश्व कप क्वार्टर फाइनल मुकाबला। जो हमने मोहाली में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था।"

वैसे भारतीय टीम को सेमीफाइनल में वेस्टइंडीज की टीम के हाथों 7 विकेट की बड़ी हार मिली थी। विंडीज टीम ने कार्लोस ब्रेथवेट की करिश्माई बल्लेबाजी के दम पर इंग्लैंड को हराकर विश्व चैंपियन बनने का कारनामा दोहराया था। ब्रेथवेट ने फाइनल में बेन स्टोक्स के ओवर की चार गेंद पर लगातार छक्के लगाते हुए टीम को जीत दिलाई थी।

कोविड 19 की वजह से हालात बहुत मुश्किल हैं और क्रिकेट कराए जाने के आसार कम नजर आ रहे हैं। भविष्य में खाली स्टेडियम में मैच कराए जाने की संभावना है। इसको लेकर कोहली ने कहा, "यह स्थिति संभव है और ऐसा शायद हो सकता है, मुझे ईमानदारी से नहीं पता कि लोग इसे किस तरह से लेने वाले हैं क्योंकि हम सभी बहुत सारे फैंस के बीच खेलने के आदी हैं।"

"चीजों अब भी चलेंगी लेकन मुझे शक है कि लोग इसका जादू महसूस कर पाएंगे या नहीं वो जो माहौल और वातावरण फैंस के अंदर होने के बनता है। हम सभी मैच वैसे ही खेलेंगे जैसे इसे खेला जाना चाहिए लेकिन उन जादूई लम्हों को लाना मु्श्किल होगा।"  

Posted By: Viplove Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस