नई दिल्ली, जेएनएन। साउथैंप्टन टेस्ट मैच में हार के बाद भारतीय टीम पांच टेस्ट मैचों की सीरीज 3-1 से गवां चुकी है। भारतीय टीम की इस हार के बाद पूर्व कप्तान कपिल देव ने कप्तान विराट कोहली का बचाव किया है। कपिल ने कहा कि ये हार सामूहिक है और अकेले विराट कोहली मैच नहीं जीता सकते हैं। विराट ने इस सीरीज में 500 से ज्यादा रन बनाए और उन्हें टीम के अन्य बल्लेबाजों से ज्यादा साथ नहीं मिल सका। 

कपिल देव ने कहा कि क्रिकेट ऐसा खेल हैं जहां सिर्फ एक या दो खिलाड़ी आपको जीत नहीं दिला सकते। इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने इस टेस्ट सीरीज में ज्यादा रन नहीं बनाए फिर भी उनकी टीम ने टेस्ट टेस्ट सीरीज जीत ली। रूट की पूरी टीम ने अच्छा खेल दिखाया और वो दुनिया की नंबर एक टेस्ट टीम को हराने में सफल रहे। इस टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड के क्रिकेटरों ने ज्यादा अच्छी क्रिकेट खेली। 

कपिल देव ने कहा कि भारतीय बल्लेबाज लगातार अपने विकेट खोते रहे और इसकी वजह से ही उन्हें हार मिली। कुछेक बल्लेबाजों के छोड़कर ज्यादातर बल्लेबाज क्रीज पर टिक ही नहीं पाए। उन्होंने कहा कि टीम इंडिया इस हार के बावजूद इंग्लैंड की टीम से ज्यादा बेहतर है। बस उन्होंने हमसे अच्छा खेला तो वो जीत गए। 

आपको बता दें कि टेस्ट सीरीज में हार के बाद सुनील गावस्कर ने विराट की कप्तानी पर सवाल उठाए थे। उन्होंने कहा था कि विराट की कप्तानी में पहले जैसी बात नहीं रही और वो विदेशी धरती पर सीरीज नहीं जीत पा रहे हैं। उन्होंने श्रीलंका और वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज जीतने की बात को अभ्यास मैच की तरह बताया था। 

भारत इस टेस्ट सीरीज में पहले ही 1-3 से पीछे है और सीरीज गवां चुका है। दोनों देशों के बीच आखिरी टेस्ट मैच लंदन में खेला जाएगा। इस मैच को जीतकर भारत अपनी जीत के अंतर को कम करने की कोशिश करेगा। वहीं इस मैच में भारतीय टीम किस तरह का बदलाव करती है ये देखने वाली बात होगी। कयास ये लगाया जा रहा है कि टीम मैनेजमेंट कुछ बड़े फैसले कर सकती है। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern