कराची, पीटीआइ। श्रीलंका क्रिकेट टीम (Sri Lanka cricket team) ने 10 साल बाद पाकिस्तान में कोई सीरीज खेलने पर हामी भरी और बेहद कड़ी सुरक्षा में वनडे और टी20 सीरीज खेली। पाकिस्तान में श्रीलंका की टीम को जिस तरह की सुरक्षा में रखा गया था, उससे श्रीलंका क्रिकेट टीम के चीफ शामी सिल्वा बेहद नाराज हैं। SLC चीफ ने दौरे को दम घुटने वाला बताया।

पाकिस्तान के दौरे पर श्रीलंका क्रिकेट टीम ने तीन वनडे और तीन टी20 सीरीज खेली जिसमें टीम को कड़ी सुरक्षा घेरे में रखा गया था।

श्रीलंका क्रिकेट के चीफ सिल्वा पाकिस्तान दौरे पर टीम के साथ थे और उन्होंने सीरीज खत्म होने के बाद श्रीलंका लौटकर सुरक्षा को लेकर बात की। उनका कहना था कि अधिकारी सुरक्षा कारणों से टीम के होटल रूम तक सीमित हो गए थे और आजादी से बाहर घूम भी नहीं पा रहे थे। सिल्वा ने कहा, "तीन दिन तक होटल के रूम में फंसे रहा, मैं भी इससे उब गया था।" 

उन्होंने यह भी साफ कर दिया है कि पाकिस्तान में टेस्ट सीरीज खेलने जाने के फैसले से पहले श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड टीम के खिलाड़ियों से इस बारे में बात करेगी कि वह वहां जाना चाहते हैं या नहीं।

पाकिस्तान आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के तहत दिसंबर में श्रीलंका के साथ दो टेस्ट मैच खेलने का इच्छुक है। पाकिस्तान में इसका आयोजन ना हो पाने की सूरत में वह UAE में मेजबानी करने को तैयार है लेकिन श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड को इसके लिए आयोजन के खर्च में भागेदारी करनी होगी।  

साल 2009 में पाकिस्तान के दौरे पर गई श्रीलंका क्रिकेट टीम की बस पर आतंकी हमला हुआ था। इस घटना में कई श्रीलंकाई खिलाड़ी घायल हो गए थे और इसके बाद से टीम ने पाकिस्तान में कोई सीरीज नहीं खेली। श्रीलंका के मुख्य खिलाड़ियों ने हाल में खत्म हुए पाकिस्तान दौरे पर जाने से मना कर दिया था। इसमें अनुभवी टी20 कप्तान लसिथ मलिंगा का नाम भी शामिल था। 

Posted By: Viplove Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप