लंदन, एएफपी। ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम इंग्लैंड से एशेज सीरीज बराबरी कर वापस लौट रही है। पिछली सीरीज में जीत हासिल करने वाली ऑस्ट्रेलिया ने एशेज ट्रॉफी पर कब्जा बरकरार रखा है। स्टीव वॉ के बाद टिम पेन ऐसे कप्तान बने जिन्होंने दो बार लगातार एशेज सीरीज को अपने पास रखने में कामयाबी हासिल की।

सीरीज में 2-1 की बढ़त बनाने के बाद भी ऑस्ट्रेलिया को इंग्लैंड ने आखिरी मुकाबले में हराकर एशेज बराबर कर ली। पांचवां एशेज टेस्ट गंवाने के बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान टिम पेन ने कहा है कि उनकी टीम को कुछ बातों का पछतावा है। टीम के पास पांचवें टेस्ट में कई मौके आए थे लेकिन फिर भी इसे भुनाने में नाकाम रही।

पेन का कहना था, “हम अपने सामने आए मौकों को भुना नहीं सके। हमारे गेंदबाज अच्छा खेले। मुझे उनके लिए बुरा लग रहा है। इस मैच में हम जिस तरह से खेले, उससे बेहतर कर सकते थे। बीते 18 साल में इंग्लैंड आकर सीरीज बचाना बड़ी बात थी, लेकिन आज का दिन हमारे लिए खराब रहा।“

पेन ने मेजबान इंग्लैंड की तारीफ करते हुए उनको अपनी टीम से बेहतर बताया। उनका कहना था कि इंग्लैंड हर लिहाज से उनकी टीम से बेहतर थी, लेकिन बावजूद इसके ऑस्ट्रेलिया ने मेजबान टीम को कड़ी टक्कर दी। पेन ने कहा कि इंग्लैंड के कप्तान जो रूट को यह मानना होगा कि हम काफी प्रतिस्पर्धी क्रिकेट खेले।

आखिरी टेस्ट में शतक बनाने वाले बल्लेबाज मैथ्यू वेड की कप्तान ने सराहना की। उन्होंने कहा, “वेड ने शानदार इच्छाशक्ति का परिचय दिया। वेड ने साबित किया कि उनके अंदर अभी काफी क्रिकेट बाकी है। दोनों टीमों को इस सीरीज पर गर्व करना चाहिए। हमने सोचा था कि यह इंग्लिश लोगों के सामने खेलते हुए हमारे लिए आत्मसम्मान हासिल करने का शानदार मौका है और इसे हम हासिल करने में सफल रहे।“

Posted By: Viplove Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप