लंदन, एएफपी। वर्ल्ड कप विनिंग तेज गेंदबाज मार्क वुड को लगता है कि कोरोना वायरस महामारी के बाद जैसे ही क्रिकेट की वापसी होगी तो वे इंग्लैंड की टेस्ट टीम में जगह बनाने की कोशिश करेंगे। शुक्रवार को इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड यानी ईसीबी ने 45 खिलाड़ियों को नामांकित किया है, जो कि विस्तार रूप से ट्रेनिंग करेंगे। इस ट्रेनिंग ग्रुप में से 18 गेंदबाजों को पहले से ही व्यक्तिगत सत्रों के लिए आमंत्रित किया गया है, ताकि बल्लेबाज और विकेटकीपर शामिल हो सकें।

कोरोना वायरस के बावजूद ईसीबी अपने घरेलू सत्र में सभी देशों की मेजबानी करना चाहती है, जिसमें वेस्टइंडीज को मेजबानों के खिलाफ 3 टेस्ट मैच खेलने हैं। इतने ही टेस्ट मैच पाकिस्तान को इंग्लैंड की सरजमीं पर खेलने हैं, जबकि इंटरनेशनल प्रोग्राम के तहत ऑस्ट्रेलिया और आयरलैंड को इंग्लैंड में सीमित ओवरों की सीरीजों में भाग लेना है। ईसीबी चाहती है कि ये सभी सीरीज वो अपने यहां आयोजित करा सके, जिससे कि बोर्ड को कमाई हो।

पिछले साल वर्ल्ड कप जीतने वाली इंग्लैंड टीम का हिस्सा रहे मार्क वुड देश के लिए टेस्ट क्रिकेट खेलना चाहते हैं। 30 साल के मार्क वुड ने अब तक इंग्लैंड के लिए 15 टेस्ट मैच खेले हैं, लेकिन एंकल इंजरी की वजह से वे काफी समय से टीम से बाहर हैं। न्यूजीलैंड के खिलाफ साल 2015 में लॉर्ड्स के मैदान पर डेब्यू करने वाले मार्क वुड ने आखिरी टेस्ट इसी साल की शुरुआत में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेला था, जिसमें 9 विकेट हासिल किए थे।

स्काई क्रिकेट शो में बात करते हुए मार्क वुड ने कहा है, "मैं इंग्लैंड की टीम के लिए किसी भी फॉर्मेट में खेलना पसंद करता हूं। मैं इंग्लैंड के लिए खेलने के लिए उत्साही हूं, लेकिन अपने आखिरी टेस्ट मैच के साथ, जहां मैंने इतना अच्छा प्रदर्शन किया, मैं कोशिश करना और अपनी स्थिति को बनाए रखना पसंद करूंगा। मैच के प्रदर्शन से हटकर मैं अपना स्थान बनाए रखना पसंद करूंगा और उस गति को बनाए रखूंगा।"

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस