नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। पाकिस्तान के खिलाफ टी20 वर्ल्ड कप 2021 के लीग मैच में भारतीय गेंदबाज पूरी तरह से नाकाम साबित रहे और एक भी विकेट नहीं ले पाए। भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ 151 रन बनाए थे और पाकिस्तान को जीत के लिए 152 रन का टारगेट दिया था। इसके जवाब में पाकिस्तान के ओपनर बल्लेबाज बाबर आजम और मो. रिजवान ने नाबाद अर्धशतकीय पारी खेलते हुए टीम को जीत दिला दी थी। टीम इंडिया का हर एक गेंदबाज इन्हें आउट करने की कोशिश करते रहे, लेकिन कामयाब नहीं हो पाए। इन गेंदबाजों में स्पिनर वरुण चक्रवर्ती भी शामिल थे जिन्हें मिस्ट्री स्पिनर कहा जाता है। उन्होंने 4 ओवर में 33 रन दिए, लेकिन विकेट लेने में सफल नहीं हो पाए। 

अब पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व ओपनर बल्लेबाज सलमान बट ने वरुण चक्रवर्ती को अपने निशाने पर लिया है। उन्होंने कहा कि वरुण चक्रवर्ती एक मिस्ट्री बॉलर हो सकते हैं लेकिन वह हमारे लिए कोई आश्चर्य की बात नहीं थी। पाकिस्तान में बच्चे टेप बॉल क्रिकेट बहुत खेलते हैं। पाकिस्तान में हर बच्चा स्ट्रीट क्रिकेट में इस तरह की गेंदबाजी करता है, जहां गेंदबाज गेंद से फिंगर ट्रिक करते हैं और अलग-अलग वैरिएशन आजमाते हैं। अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए, बट ने चक्रवर्ती की गेंदबाजी की तुलना श्रीलंका के पूर्व स्पिनर अजंता मेंडिस से की, जिन्होंने अपनी "रहस्यमय" विविधताओं की वजह से सुर्खियां बटोरी थी, लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ ज्यादा नहीं खेल पाए थे। 

बट ने कहा कि अपने करियर की शुरुआत में, श्रीलंका के अजंता मेंडिस ने भी अपने रहस्यमयी गेंद से कई टीमों को परेशान किया था, लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ उनका रिकॉर्ड बहुत अच्छा नहीं है। हमें मिस्ट्री बॉलिंग में कभी कोई मिस्ट्री नहीं मिली क्योंकि हम इस तरह के गेंदबाजों के साथ खेलते हुए बड़े हुए हैं। मुझे नहीं लगता कि भारत-पाकिस्तान के खिलाफ फिर से चक्रवर्ती खेलेंगे और अगर वे ऐसा करते हैं, तो परिणाम के समान होने की उम्मीद है। वरुण जैसे किसी खिलाड़ी को देखकर ही पाकिस्तान के बल्लेबाज यह पता लगा सकते हैं कि गेंद अंदर आने वाली है या बाहर। भारतीय विश्लेषक कोई भी हो, शायद उन्हें इस बात की जानकारी नहीं थी कि विश्व क्रिकेट में मिस्ट्री स्पिन की शुरुआत करने वाले मेंडिस पाकिस्तान के खिलाफ बिल्कुल भी सफल नहीं थे।

Edited By: Sanjay Savern