लंदन, पीटीआइ। कोरोना महामारी फैलने के बाद दोबारा क्रिकेट सीरीज की शुरुआत इंग्लैंड से हुई थी। वेस्टइंडीज की मेजबानी कर टीम ने कोरोना में भी दुनियाभर के क्रिकेट प्रेमियों के अंदर हौसला भरा था। इस सीरीज के दौरान नस्ल विरोधी अभियान के समर्थन में दोनों टीम के खिलाड़ी एक जुट हुए थे। अब एक बार फिर से दोनों देश के बीच टी20 विश्व कप मुकाबले के दौरान ऐसा ही नजारा दिखने वाला है।

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज क्रिस जार्डन ने कहा कि उनके साथी वेस्टइंडीज के खिलाफ टी-20 विश्व कप के अपने शुरुआती मैच में एक घुटने के बल बैठकर नस्ल विरोधी अभियान का समर्थन करने पर विचार कर रहे हैं।

T20 World Cup 2021: चहल और अय्यर का सपना टूटा, अक्षर पटेल की जगह टी20 विश्व कप टीम में शार्दुल ठाकुर

वेस्टइंडीज की टीम पहले ही पुष्टि कर चुकी है कि वह 23 अक्टूबर को होने वाले इस मैच में एक घुटने के बल पर बैठेगी, जिसे नस्ल विरोधी अभियान के समर्थन का संकेत माना जाता है। इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने पिछली बार अगस्त 2020 में आयरलैंड के खिलाफ वनडे मैच के दौरान ऐसा किया था, लेकिन आगे ऐसा नहीं करने के उनके फैसले की वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग ने आलोचना की थी।

IPL 2021: कोलकाता नाइटराइडर्स तीसरी बार पहुंची फाइनल में, पिछले दो फाइनल में बनीं थी चैंपियन

जार्डन ने कहा कि वे इस महीने शुरू होने वाले टूर्नामेंट के दौरान फिर से एक घुटने के बल बैठने पर विचार कर रहे हैं। जार्डन ने कहा, 'हम इस पर चर्चा करेंगे और अगर सभी इसके बारे में दृढ़ता से सोचते हैं तो हम निश्चित रूप से ऐसा करेंगे। दूसरी तरफ अगर हम ऐसा नहीं सोचते हैं तो हम नहीं करेंगे।'

वेस्टइंडीज के टी-20 कप्तान कीरोन पोलार्ड ने पुष्टि की कि उनकी टीम प्रत्येक मैच की शुरुआत में एक घुटने के बल पर बैठेगी। उसका पहला मैच इंग्लैंड से होगा।

 

Edited By: Viplove Kumar