मेलबर्न, प्रेट्र। ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के सबसे धाकड़ बल्लेबाज स्टीव स्मिथ अपने क्रिकेट करियर को विराम देे से पहले अपने दो सपने पूरे करना चाहते हैं। उनकी ख्वाहिश है कि वो इंग्लैंड को उसकी ही धरती पर एशेज सीरीज में हराएं तो वहीं भारत को भी टेस्ट सीरीज में उसकी ही धरती पर मात दें। आस्ट्रेलिया ने पिछले साल इंग्लैंड में 2-2 से ड्रा खेलने के बाद एशेज बरकरार रखी लेकिन ओवल में अंतिम टेस्ट में मिली हार अब भी स्मिथ को खटकती है। उन्होंने चार टेस्ट में 110.57 औसत से 774 रन बनाए थे और टेस्ट सीरीज के स्टार बल्लेबाज साबित हुए थे। 

31 साल के इस खिलाड़ी ने 2017 में भारत में चार टेस्ट मैचों की सीरीज के दौरान तीन शतक लगाए थे लेकिन आस्ट्रेलियाई टीम 1-2 से हार गयी थी और अब विराट कोहली की अगुआई वाली भारतीय टीम पर टेस्ट में जीत उनकी सूची में सबसे ऊपर है। आस्ट्रेलिया को अक्टूबर 2022 में भारत का दौरा करना है। स्मिथ ने क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू से कहा कि ये दोनों बड़े पहाड़ हैं जिन्हें चढ़ना है और अगर आप ऐसा कर सकते हो तो यह काफी विशेष होगा। उम्मीद करता हूं कि मैं ऐसा कर पाऊं, देखते हैं कि हम कैसा करते हैं।

उन्होंने कहा कि मेरी उम्र भी अब बढ़ रही है और मैं नहीं जानता कि कितने और साल का क्रिकेट मेरे अंदर बचा है और कुछ नहीं कह सकते कि भविष्य में क्या है। लेकिन इन चीजों का लक्ष्य बना रहेगा, यह निश्चित है। पिछले साल की एशेज सीरीज के बारे में बात करते हुए स्मिथ ने कहा कि एशेज वापस रखना काफी विशेष था। दुर्भाग्य से हम इसे जीत नहीं सके जो मैं अब भी करना चाहता हूं। ’’

उन्होंने कहा कि जब हम सीरीज के खात्मे की तरफ थे और हम एशेज रखे हुए थे लेकिन अंतिम टेस्ट मैच हार गये इससे हमने वास्तव में कुछ नहीं जीता। इससे जीत जैसी खुशी महसूस नहीं होती। उन्होंने कहा कि मेरे निजी नजरिये से देखें तो मेरा काम अभी पूरा नहीं हुआ है। एशेज बरकरार रखना अच्छा था लेकिन मुझे यह सही नहीं लगता जब आपने इसे जीता ही नहीं हो। हमने टेस्ट सीरीज ड्रा करा ली थी ये अच्छा था, लेकिन मैं इससे संतुष्ट नहीं था। 

Posted By: Sanjay Savern

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस