नई दिल्ली, जेएनएन। साल 2016 में जब रवि शास्त्री भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच की दौड़ में अनिल कुंबले से पिछड़ गए थे तो उन्होंने इसके लिए पूर्व कप्तान और क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) के पूर्व सदस्य सौरव गांगुली को जिम्मेदार ठहराया था। गांगुली बाद में उसी पैनल के सदस्य थे, जिसने शास्त्री को टीम इंडिया का कोच चुना।

शास्त्री पर करना होगा भरोसा

हाल ही में 57 वर्षीय शास्त्री को 2021 टी-20 विश्व कप भारतीय टीम का कोच बनाया गया है। अब भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज कप्तान सौरव गांगुली ने रवि शास्त्री को कोच पद के लिए उपयुक्त उम्मीदवार ठहराया। उन्होंने कहा कि बोर्ड के पास मुख्य कोच के पद के लिए अधिक विकल्प भी नहीं थे। पूर्व कप्तान ने साथ ही कहा कि शास्त्री को अब विश्व कप जीतकर इस भरोसे को सही साबित करना चाहिए।

वर्ल्ड कप जिताना होगा

गांगुली का कहना है, 'रवि सही पसंद हैं। चूंकि ज्यादा लोगों ने आवेदन नहीं किया था, ऐसे में बोर्ड के पास ज्यादा विकल्प नहीं थे। रवि बीते पांच साल से भारतीय टीम के साथ हैं और अब उन्हें दो और साल के लिए यह जिम्मेदारी दी गई है। मुझे नहीं लगता कि इससे पहले किसी अन्य को टीम के साथ इतने लंबे समय तक काम करने का मौका मिला है। वह सही विकल्प हैं, लेकिन अब उन्हें उन पर जताए गए भरोसे पर खरा उतरना होगा। 2020 और 2021 में दो टी-20 विश्व कप आ रहे हैं और इन बड़े टूर्नामेंटों में भारत की जीत के रास्ते निकालने होंगे।'

बता दें कि रवि शास्त्री के नेतृत्व में भारत ने साल 2015 और साल 2019 का वर्ल्ड कप खेला है, लेकिन दोनों ही बार भारतीय टीम सेमीफाइनल खेलकर बाहर हुई है। ऐसे में रवि शास्त्री की प्रतिभा पर सवाल उठ रहे थे। वहीं, सौरव गांगुली ने उनका बचाव किया है और उनको कहा है कि वे अब भारतीय टीम को वर्ल्ड कप जिताएं।  

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप