नई दिल्ली, जेएनएन। आइपीएल 2020 का आयोजन कोविड 19 महामारी की वजह से यूएई में खेला जा रहा है और अब तक ये काफी सफल रहा है। आधे से ज्यादा लीग मुकाबले खेल जा चुके हैं और ये लीग अपने चरम पर पहुंचता जा रहा है। हर टीम प्लेऑफ में पहुंचने में जोर लगा रही है और दर्शकों के रोमांचक मुकाबले देखने को मिल रहे हैं। हर टीम मैदान पर जीतने के इरादे से उतरती है और इसके लिए कभी बार बड़े-बड़े खिलाड़ियों को भी इस सीजन में बेंच पर बैठना पड़ रहा है। 

इस सीजन में लगभग हर टीम युवा टैलेंट को ज्यादा मौके दे रही हैऔर इसकी वजह से क्रिस गेल जैसे खिलाड़ियों को भी शुरुआती कुछ मैचों में प्लेइंग इलेवन के बाहर रहना पड़ा था। सौरव गांगुली ने गेल को प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिल पाने पर अपनी राय सबके सामने रखी। गांगुली ने एक शो के दौरान कहा कि मुझे ऐसा लगता है कि गेल हमेशा हंसते और मस्त रहते हैं, लेकिन टीम से बाहर बैठना उन्हें जरूर चुभा होगा। आइपीएल में काफी ज्यादा प्रतिस्पर्धा है। ये वो बातें हैं जिनको देखने और समझने की जरूरत है। 

आइपीएल 2020 में अब तक कई खिलाड़ियों ने शानदार बल्लेबाजी की है तो गेंदबाजी के मामले में भी कईयों ने अपना दम दिखाया है। गांगुली से जब आइपीएल के 13वें सीजन की सबसे बेस्ट पारी के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि अब तक पूरा टूर्नामेंट लाजवाब रहा है। मैं किसी एक को खास नहीं कह सकता, लेकिन केएल राहुल व शिखर धवन की बल्लेबाजी, जसप्रीत बुमराह, एनरिच नॉर्त्जे व रबादा की गेंदबाजी के साथ-साथ शमी का प्रदर्शन, वहीं मयंक अग्रवाल की बल्लेबाजी ने भी खूब प्रभावित किया है। वहीं कुछ फील्डिंग भी बहुत शानदार रही हैं। 

इस साल आइपीएल में कई युवा खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन से छाप छोड़ी है, जबकि कई अनुभवी और दमदार खिलाड़ियों को अबतक मौका नहीं मिल सका है। गेल को किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने आरसीबी के खिलाफ इस सीजन में पहली बार प्लेइंग इलेवन में शामिल किया था और उस मैच में गेल ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए अर्धशतकीय पारी खेली थी। गेल के अलावा, चेन्नई की तरफ से इमरान ताहिर भी ऐसे खिलाड़ी रहे हैं, जिनको पिछले सीजन में दमदार प्रदर्शन करने के बावजूद भी इस साल अब तक एक भी मैच में खेलने का मौका नहीं मिला है।