नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। शोएब अख्तर दुनिया के सबसे तेज गेंदबाजों में शुमार किए जाते थे और अपने खेलने वाले दिनों में उन्होंने अपनी तेज गति से दुनिया के बल्लेबाजों को खौफ में रखा था। शोएब इतनी तेज गति से गेंदबाजी करते थे कि विरोधी बल्लेबाज ना सिर्फ उससे डरते थे बल्कि कई बल्लेबाज उनकी गेंद पर घायल भी हो जाते थे। शोएब अख्तर ने ज्यादातर मौकों पर बल्लेबाजों को अनजाने में घायल किया था, लेकिन कई बार वो जानबूझकर भी ऐसा किया करते थे। 

शोएब अख्तर ने सौरव गांगुली और ब्रायन लारा जैसे बल्लेबाजों को भी कई बार अपनी गेंद से घायल किया था। साल 2004 के चैंपियंस ट्राफी टूर्नामेंट के दौरान वेस्टइंडीज के पूर्व बल्लेबाज ब्रायन लारा के सिर पर शोएब अख्तर की गेंद लगी थी तो वहीं गांगुली को साल 1999 में मोहाली में वनडे मैच के दौरान अख्तर की एक घातक गेंद पर पसली में काफी गंभीर चोट लगी थी। शोएब अख्तर ने स्टार स्पोर्ट्स के एक पुराने शो फ्रेनमीज में वीरेंद्र सहवाग से बात करते हुए खुलासा किया था कि पाकिस्तान की टीम मीटिंग में ये कहा गया था कि भारतीय बल्लेबाजों के सिर और पसलियों को निशाना बनाना है ना कि उन्हें आउट करना है। 

शोएब अख्तर ने कहा कि उन्हें सौरव गांगुली को लेकर खास तौर पर कहा गया था कि उनकी पसलियों को निशाना  बनाना है और उन्हें चोटिल करना है। अख्तर ने आगे कहा कि मैं हमेशा बल्लेबाजों के सिर और पसलियों को निशाना बनाने की कोशिश कर रहा था, लेकिन टीम मीटिंग में मुझे कहा गया कि सौरव गांगुली को निशाना बनाना है और उनकी पसलियों पर चोट करना है। मैंने इसके बाद पूछा कि क्या मुझे उन्हें आउट करना है या नहीं तो मुझसे कहा गया था कि नहीं आपको पास काफी गति है और आप सिर्फ बल्लेबाजों को हिट करने की कोशिश करें, हम उन्हें आउट करने का ध्यान रखेंगे। 

Edited By: Sanjay Savern