मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, जेएनएन। श्रीलंका के करीब एक दर्जन खिलाड़ी ने पाकिस्तान दौरे पर जाने से इनकार कर दिया है। साल 2009 के आतंकी हमले से सहमे श्रीलंकाई खिलाड़ी ने सितंबर और अक्टूबर में पाकिस्तान में होने वाली तीन-तीन मैचों की वनडे और टी20 सीरीज से अपना नाम वापस ले लिया है। श्रीलंकाई खिलाड़ियों के इस फैसले पर पाकिस्तान टीम के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने निशाना साधा है। 

रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से मशहूर पेसर शोएब अख्तर ने कहा है कि वे श्रीलंकाई खिलाड़ियों के पाकिस्तान दौरे पर ना आने से निराश हैं। शोएब अख्तर ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर लिखा है, "10 श्रीलंकाई खिलाड़ियों के पाकिस्तान दौरे पर ना आने के लिए बहुत निराश हूं। पाकिस्तान ने हमेशा श्रीलंका क्रिकेट का सपोर्ट किया है। हाल ही में जब श्रीलंका में ईस्टर अटैक हुआ था तो हमने अपनी अंडर 19 टीम सबसे पहले भेजे थी।"

एक दूसरे ट्वीट में शोएब अख्तर ने कहा है कि वे श्रीलंका से पारस्परिकता की उम्मीद करते हैं। शोएब अख्तर ने कहा है, "और हां 1996 के वर्ल्ड कप को कौन भूल सकता है जब ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज ने श्रीलंका जाने से मना कर दिया था। पाकिस्तान ने भारत के साथ एक फ्रेंडली मैच खेलने के लिए एक सयुंक्त टीम कोलंबो भेजी थी। इसलिए हम श्रीलंका से आदान-प्रदान की उम्मीद रखते हैं। बोर्ड उनका सहयोग कर रहा है तो खिलाड़ियों को भी करना चाहिए।"

पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच 27 सितंबर से 3 अक्टूर तक तीन मैचों की वनडे सीरीज कराची में खेली जाएगी, जबकि 5 से 9 अक्टूबर के बीच लाहौर में तीन टी20 मैच खेले जाने हैं। इसके लिए श्रीलंकाई टीम ने अपनी कमजोर टीम का ऐलान कर दिया है। हालांकि, पाकिस्तान ने अभी अपनी टीम का ऐलान नहीं किया है। 

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप