जोहानिसबर्ग, पीटीआइ। भारतीय क्रिकेट टीम के कोच रवि शास्त्री ने टीम मैनेजमेंट के फैसले को सही ठहराते हुए कहा कि रहाणे को पहले दो टेस्ट मैच से बाहर रखने का फैसला बिल्कुल सही था और रोहित के मौजूदा फॉर्म को देखते हुए उनकी टीम में रखने का फैसला सही था। विदेशी पिच पर पिछले कुछ समय में भारत की तरफ से रहाणे काफी सफल रहे हैं और उन्हें केपटाउन और सेंचुरियन टेस्ट में टीम में शामिल नहीं किया गया था। टीम मैनेजमेंट ने रहाणे की जगह रोहित को उनकी फॉर्म की वजह से अंतिम ग्यारह में शामिल किया था। हालांकि रोहित शर्मा पहले दो टेस्ट में फेल रहे और भारतीय बल्लेबाजी द. अफ्रीकी पेस अटैक के सामने पूरी तरह से फेल हो गई जिसकी काफी आलोचना भी हुई। इसके बाद रहाणे को टीम में शामिल करने की आवाज उठने लगी।  

शास्त्री ने कहा कि अगर रहाणे पहला टेस्ट मैच खेलते और अच्छा नहीं कर पाते तो भी आप मुझसे लगभग ऐसा ही सवाल पूछते कि रोहित को टीम में क्यों शामिल नहीं किया गया। रोहित ने अच्छा नहीं किया तो आप पूछ रहे हैं कि रहाणे टीम में क्यों नहीं हैं। यही तेज गेंदबाजों के साथ भी है इसलिए आपके पास विकल्प है। टीम मैनेजमेंट ने चर्चा की थी कि क्या बेस्ट विकल्प है इसके बाद ही ये फैसला लिया गया। शास्त्री ने कहा कि विदेशी दौरों पर वहां की कंडीशन को ध्यान में रखकर ही अंतिम ग्यारह का फैसला किया जाता है। अपने देश में हमें अंतिम ग्यारह चुनने में ज्यादा परेशानी नहीं होती क्योंकि हमें परिस्थितियों के बारे में पता होता है। रवि ने कहा कि एक्टपर्ट अपना काम कर रहे हैं। वो जो चाहते हैं वो कह सकते हैं इससे हमें कोई फर्क नहीं पड़ता। ये उनका काम है जो वो कर रहे हैं। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप