नई दिल्ली, पीटीआइ। भारतीय क्रिकेट टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार मैचों की टेस्ट सीरीज के आखिरी मुकाबले में दमदार जीत हासिल की। ब्रिसबेन टेस्ट में भारत ने 328 रन के लक्ष्य का पीछा कर जीत दर्ज की और 2-1 से सीरीज पर भी कब्जा जमाया। इस जीत में शार्दुल ठाकुर का अहम योगदान रहा। पहली पारी में अर्धशतक जमाने वाले इस गेंदबाजी ने दूसरी पारी में चार विकेट भी चटकाए।

भारत के लिए ऑलराउंडर खेल दिखाने वाले शार्दुल ने पीटीआइ से बात की। उन्होंने बताया कि वह टीम इंडिया के लिए बॉलिंग ऑलराउंडर की भूमिका निभाने के लिए तैयार हैं। शार्दुल ने कहा, "हां, मुझे बॉलिंग ऑलराउंडर कह सकते हैं। मेरे अंदर बल्लेबाजी करने की काबिलियत और भविष्य में भी जब कभी मुझे ऐसा मौका मिलेगा बल्लेबाजी करने का, तो मैं टीम के टोटल में बहूमुल्य रनों का योगदान करूंगा।"

ब्रिसबेन टेस्ट की दूसरी पारी में एक वक्त मोहम्मद सिराज और शार्दुल दोनों ही चार- चार विकेट लेकर गेंदबाजी कर रहे थे। दोनों ही गेंदबाज पहली बार टेस्ट में एक पारी में 5 विकेट लेने के करीब थे। सिराज ने यह मौका हासिल किया लेकिन शार्दुल को इससे चूकने का दुख नहीं बल्कि खुशी है।

उन्होंने कहा, "नहीं, मुझे दूसरी पारी में 5 विकेट हासिल ना कर पाने का मलाल नहीं है। मेरा मतलब है कि यह काफी अच्छा होता अगर मैं पांच विकेट ले पाता लेकिन मैं सिराज के लिए बहुत खुश हूं और वाकई में ऐसा चाहा था कि उनको पांच विकेट मिल जाए, क्योंकि वह बहुत ही मुश्किल दौर से गुजरे हैं।

ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर आने के बाद मोहम्मद सिराज के पिता का निधन हो गया था। वह भारत जा सकते थे लेकिन उन्होंने सीरीज में खेलने का विकल्प चुना। उनके पिता भी चाहते थे कि बेटा भारत की तरफ से मैच खेलने मैदान पर उतरे। मेलबर्न टेस्ट में डेब्यू करने वाले सिराज ने 3 टेस्ट मैच में कुल 13 विकेट चटकाए। ब्रिसबेन में उन्होंने दूसरी पारी में 73 रन देकर 5 विकेट हासिल किया। 

सिराज के लिए शार्दुल ने कहा, "यह उनके लिए एक भावुक सीरीज थी। उन्होंने हाल ही में अपने पिता को खोया और उन्होंने बताया भी था कि उनके पिता कितना चाहते थे कि वह भारत की तरफ से क्रिकेट खेलने उतरें। भले ही वो इस दुनिया में अब मौजूद नहीं हैं लेकिन स्वर्ग से उनको खेलता जरूर देख रहे होगें। उनको पांच विकेट लेता देखकर वह बहुत ही ज्यादा खुश हुए होंगे।"

 

Ind-vs-End

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप