नई दिल्ली, जेएनएन। पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व दिग्गज स्पिनर सकलैन मुश्ताक ने एक हैरान करने वाला किस्सा सुनाया है। साल 1999 में खेले गए विश्व कप के दौरान उन्होंने अपने होटल के कमरे में पत्नी को अलमारी में छुपाया था। टूर्नामेंट के दौरान खिलाड़ियों को परिवार वालों को साथ रखने पर पाबंदी लगा दी गई थी।

सकलैन ने बताया कि लंदन में रहने वाली उनकी पत्नी के साथ वक्त बिताना उनका रोज का रूटीन बन गया था और अचानक से नियमों में किए गए बदलाव की वजह से वह उनको छोड़ना नहीं चाहते थे। सकलैन ने साल 1999 में खेले गए इस विश्व कप बारे में बात करते हुए यह अजीब किस्सा शेयर किया।

उन्होंने रौनक कपूर के साथ बात करते हुए बताया, "दरअसल मेरी शादी साल 1998 के दिसंबर में हुई थी। मेरी पत्नी लंदन में रहती थी इसलिए 1999 के विश्व कप में मैं उनके साथ ही रहता था और हमारा एक नियमित रूटीन बन चुका था। कड़ी मेहनत करना और एक पेशेवर खिलाड़ी की तरह दिन के समय टीम के साथ रहना और शाम को वापस पत्नी के साथ वक्त बिताना। मैं पत्नी के साथ ही अपनी शाम को बिताया करता था।"

"अचानक से ही उन्होंने कह दिया कि परिवार वालो को वापस घर भेजना पड़ेगा। ऐसे में मैं अपने अपने कोच रिचर्ड पायबस के पास गया और कहा जब सबकुछ इतना अच्छा चल रहा है तो फिर अचानक से यह बदलाव क्यों। मैं एक ऐसा इंसान हूं जो चीजों को जैसा है वैसा ही रखना पसंद करता है। मैं बिना मतलब के नई चीजों को ज्यादा आजमाने में यकीन नहीं रखा हूं। मैंने तो तय कर लिया उसी चीज को फॉलो करता रहूंगा जो करता आया हूं।"

उन्होंने बताया कि विश्व कप के दौरान कई बार होटल के कमरे की चेकिंग हुई थी लेकिन उन्होंने बीवी को अलमारी में छुपने के लिए बोल रखा था। तो जब कभी भी चेकिंग की जाती तो वह वैसा ही किया करती थी। 

1999 विश्व कप फाइनल में पहुंचा था पाकिस्तान

पाकिस्तान की टीम 1999 में खेले गए विश्व कप के फाइनल में पहुंचने में कामयाब रहा था। पहले बल्लेबाजी करते हुए पूरी टीम महज 132 रन पर ढेर हो गई थी और ऑस्ट्रेलिया ने 8 विकेट से मैच जीतकर खिताब अपने नाम किया था। 

 

Posted By: Viplove Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस