नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व विस्फोटक ओपनर बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग इंग्लैंड में भारतीय ओपनर्स बल्लेबाजों के प्रदर्शन से काफी आहत हैं। टीम के ओपनर्स बल्लेबाज पहले चार टेस्ट मैचों में फेल रहे और टीम की हार का मुख्य कारण बने। ऐसे में सहवाग चाहते हैं कि टीम में कुछ बदलाव हो। सहवाग चाहते हैं कि टेस्ट टीम में रोहित शर्मा को बतौर ओपनर बल्लेबाज मौका दिया जाना चाहिए। 

सहवाग ने कहा कि अगर रोहित को ये जिम्मेदारी दी गई तो टेस्ट टीम में ओपनर बल्लेबाज की समस्या खत्म हो जाएगी। सहवाग का कहना है कि टीम को एक ऐसे बल्लेबाज की जरूरत है जो ओपन करे और विरोधी गेंदबाजों पर शुरुआत से ही हमला बोले और इसके लिए रोहित सबसे फिट हैं। उन्होंने कहा कि इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें टेस्ट में उम्मीद की जा रही है कि पृथ्वी शॉ को मौका मिले लेकिन मेरा मानना है कि रोहित को इस खिलाड़ी से पहले एक मौका मिलना चाहिए। पृथ्वी को टीम में तीसरे ओपनर के तौर पर रखा जाना चाहिए ताकि वो अपने सीनियर खिलाड़ियों से सीख सकें। 

रोहित शर्मा के लिए एक बात उनके पक्ष में नहीं जाता कि क्रिकेट के छोटे प्रारूप में वो काफी खतरनाक बल्लेबाज हैं लेकिन जब बात टेस्ट क्रिकेट की आती है तो वो फिसड्डी ही नजर आते हैं। उन्होंने अब तक अपने करियर में भारत के लिए कुल 25 टेस्ट मैच खेले हैं जिसमें उनके नाम पर 39.97 की औसत से 1479 रन है। वर्ष 2013 में वेस्टइंडीज के खिलाफ उन्होंने अपने टेस्ट करियर की शुरुआत की थी और लगातार दो शतक भी लगाए थे लेकिन इसके बाद उनके प्रदर्शन में काफी गिरावट आ गई। बाद के 23 टेस्ट में उनके बल्ले से सिर्फ एक शतक निकला। 

हाल में उन्हें दक्षिण अफ्रीका दौरे पर खेले गए टेस्ट सीरीज में मौका मिला लेकिन उनका बल्ला वहां नहीं चला। इसके बाद उन्हें अफगानिस्तान के खिलाफ खेले गए एकमात्र टेस्ट मैच में टीम में शामिल नहीं किया गया। इंग्लैंड दौरे पर वनडे व टी20 में उन्होंने शतक लगाया बावजूद इसके वो टेस्ट टीम का हिस्सा नहीं बन पाए।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern