नई दिल्ली, प्रेट्र। रोहित शर्मा इंडियन प्रीमियर लीग के सबसे सफल कप्तान हैं और अपनी किस काबिलियत की वजह से उन्हें इस लीग में ऐसी सफलता मिली है इसके बारे में टीम इंडिया के पूर्व बल्लेबाज वीवीएल लक्ष्मण ने बताया है। लक्ष्मण ने बताया कि कप्तान के तौर पर उन्हें इतनी सफलता इस वजह से मिली है क्योंकि वो बेहद दवाब की स्थिति में भी शांत बने रहते हैं। 33 साल के रोहित ने अपनी टीम मुंबई इंडियंस को 12 सीजन में 4 बार आइपीएल खिताब दिलाया है। वो आइपीएल इतिहास के सबसे सफल कप्तान हैं। 

वीवीएस ने बताया कि किस तरह से रोहित शर्मा आइपीएल के अपने पहले सीजन में डेक्कन चार्जर्स की तरफ से खेलते हुए ही एक बेहतरीन बल्लेबाज और नेतृत्वकर्ता के तौर पर सामने आए। उन्होंने कहा कि जब वो पहले साल इस टीम के साथ जुड़े थे तब उन्होंने सिर्फ टी20 वर्ल्ड कप में खेला था और काफी युवा थे। भारत के लिए डेब्यू किए हुए उन्हें ज्यादा समय नहीं हुआ था। 

लक्ष्मण ने बताया कि पहले सीजन में हमारी टीम का प्रदर्शन ज्यादा अच्छा नहीं रहा था, लेकिन रोहित ने मध्यक्रम में बल्लेबाजी करते हुए शानदार खेल दिखाया था। आइपीेएल इतिहास में रोहित सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में तीसरे स्थान पर हैं और उन्होंने 188 मैचों में 4898 रन बनाए थे और उनका बेस्ट स्कोर नाबाद 109 रन है। 

रोहित के बारे में लक्ष्मण ने बताया कि मैच दर मैच मिली सफलता के बाद उनका आत्मविश्वास बढ़ता गया और वो कोर ग्रुप में शामिल हो गए। वो युवा खिलाड़ियों की मदद करते और अपने विचार सामने रखते थे। ये उनकी नेतृत्व क्षमता के शुरुआती लक्षण थे। उन्होंने जो सबसे अहम बात सीखी वो ये कि दवाब की परिस्थिति से कैसे पार पाना है क्योंकि उन्होंने बेहद मुश्किल स्थिति में बल्लेबाजी की थी और लगातार इससे सीखते रहे। अपने इसी अनुभव और मुश्किल पल में बेहतर खेल दिखाने की वजह से ही वो आइपीएल इतिहास के सबसे सफल कप्तानों में से एक हैं। 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस