नई दिल्ली, जेएनएन। हाल ही में भारतीय टीम के बल्लेबाज सुरेश रैना और पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआइ से मांग की थी कि जो खिलाड़ी सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से बाहर हैं उनको विदेशी टी20 लीग में खेलने की इजाजत मिले, लेकिन बीसीसीआइ ने इससे साफ इन्कार कर दिया था। वहीं, अब ठीक इसी तरह की मांग सलामी बल्लेबाज रोबिन उथप्पा ने भी भारतीय क्रिकेट बोर्ड से की है।

रोबिन उथप्पा चाहते हैं कि बीसीसीआइ भारतीय खिलाड़ियों को कम से कम दो विदेशी टी20 लीग में खेलने की अनुमति दे। बीबीसी से बात करते हुए रोबिन उथप्पा ने कहा है, "वास्तव में हमें जाने देना चाहिए।" उन्होंने कहा है, "जब हमें जाने और खेलने की अनुमति नहीं देते हैं तो यह दुख होता है ... अगर हम जा सकते हैं और खेलना चाहते हैं तो कम से कम कुछ अन्य लोगों के साथ खेलना अच्छा होगा, क्योंकि खेल के एक छात्र के रूप में आप सीखना चाहते हैं और जितना चाहें उतना बढ़ सकते हैं और ऐसा कर सकते हैं।" "

वुमेंस बिग बैश लीग में स्मृति मंधाना और हरमनप्रीत कौर खेल सकती हैं, तो पुरुष खिलाड़ियों को अनुमति इस लीग के लिए क्यों नहीं मिलती है। ऐसे में उथप्पा ने उम्मीद जताई है कि बीसीसीआइ के प्रोग्रेसिव प्रेसिडेंट सौरव गांगुली इस स्थिति को साफ करेंगे और उनके लिए आगे बढ़ने का मार्ग प्रशस्त करेंगे। हम उम्मीद कर रहे हैं कि वह कुछ बिंदु पर इस पर गौर करेंगे।

रोबिन उथप्पा ने कहा है, "सौरव गांगुली एक बहुत प्रगतिशील सोच वाले इंसान हैं, जो हमेशा भारत को अगले स्तर पर ले जाने के लिए तत्पर रहते हैं। उन्होंने वास्तव में वह नींव रखी जहां भारत क्रिकेट अब है।" इससे पहले जब रैना और पठान ने इस तरह की मांग की थी तो बीसीसीआइ के एक अधिकारी ने कहा था कि विशिष्टता ही हमारी पहचान है और हम खिलाड़ियों को विदेशी लीग में खेलने की इजाजत नहीं देंगे।

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस