मेलबर्न, जेएनएन। ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग ने ऑस्ट्रेलिया के चयनकर्ताओं पर अपनी भड़ास निकाली है। पोंटिंग का चयनकर्तानओं पर ये गुस्सा इसलिए निकला है, क्योंकि उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए उनके चहेते खिलाड़ी ग्लेन मैक्सवेल को मौका नहीं दिया है।

पोंटिंग ने ग्लेन मैक्सवेल को आस्ट्रेलिया टीम से हटाने के फैसले की आलोचना की है। पोंटिंग ने कहा कि अगर वह मैक्सेवल के स्थान पर होते तो इस फैसले से बेहद गुस्सा होते।

एक बयान में पोंटिंग ने कहा, 'अगर मैं मैक्सवेल के स्थान पर होता, तो सोचता कि उन्होंने मुझे टीम में शामिल होने का मौका क्यों नहीं दिया। मेरे लिए यह सब अजीब है। अगर मैं मैक्सेवल की जगह होता, तो टीम में शामिल न किए जाने के लिए गुस्सा होता।'

पोंटिंग ने कहा कि चयनकर्ताओं को मैक्सवेल को यह बताना चाहिए कि टेस्ट टीम में वापसी के लिए उन्हें क्या काम करने की जरूरत है। उन्होंने कहा, 'वह एक ऐसे इंसान हैं, जो आस्ट्रेलिया के लिए टेस्ट क्रिकेट खेलने के लिए उत्सुक हैं। मैं जानता हूं कि वह मेहनत करेंगे और खुद को टेस्ट टीम में शामिल होने के काबिल बनाएंगे।'

आपको बता दें कि रिकी पोंटिंग को ग्लेन मैक्सवेल पर कुछ ज़्यादा ही विश्वास है। पोंटिंग ने पहले भी मैक्सवेल पर अपना भरोसा दिखाया है। इस बार आइपीएल में पोंटिंग दिल्ली डेयरडेविल्स के कोच थे और मैक्सवेल भी दिल्ली की ही टीम से खेल रहे थे। मैक्सवेल के लगातार फेल होने के बावजूद भी उन्हें लगातार मैच में मौके मिलते रहे और इसकी वजह रिकी पोंटिंग ही थे। यहां तक इस तरह कि खबरें भी आईं थी कि गौतम गंभीर के दिल्ली की कप्तानी छोड़ने के बाद पोंटिंग ने कप्तान के लिए मैक्सवेल के नाम का सुझाव दिया था।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal