दुबई, प्रेट्र। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज रिकी पोंटिंग ने ब्लैक लाइव्स मैटर (बीएलएम) पर कप्तान आरोन फिंच के हालिया रुख को स्पष्ट करते हुए कहा कि हमें इस मुद्दे पर बातचीत करनी चाहिए। वेस्टइंडीज और इंग्लैंड की टीमों के खिलाड़ी जुलाई में हुई तीन मैचों की टेस्ट सीरीज के हर मुकाबले से पहले बीएलएम अभियान के समर्थन में मैदान में एक घुटने के बल बैठे थे। ऑस्ट्रेलिया के इंग्लैंड दौरे पर हालांकि ऐसा नहीं हुआ था।

आरोन फिंच ने कहा था कि इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने उनके समक्ष यह मामला उठाया था, लेकिन उनकी टीम ने ऐसा करने से मना करते हुए कहा कि इस मुद्दे पर लोगों को शिक्षित करना ज्यादा जरूरी है। फिंच का यह रुख वेस्टइंडीज के महान तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग को पसंद नहीं आया था। अमेरिका के अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस प्रताड़ना से हुई मौत के बाद दुनिया भर में नस्लवाद के खिलाफ विरोध का होल्डिंग ने समर्थन किया था।

रिकी पोंटिंग से जब आरोन फिंच के बयान पर होल्डिग की प्रतिक्रिया के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि फिंच यह कहना चाह रहे हैं कि विरोध प्रदर्शन से पहले इस मुद्दे पर लोगों को अधिक शिक्षित करने की आवश्यकता है। रिकी पोंटिंग ने कहा, यह केवल ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के बारे में नहीं है, यह ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के बारे में है और यह पूरी दुनिया के खेलों के बारे में है। यह बहुत बड़ा मुद्दा है और क्रिकेटर अपने स्तर पर जो कर सकें उन्हें करना चाहिए।

आपको बता दें कि रिकी पोंटिंग इस समय यूएई में हैं। वो आइपीएल 2020 में दिल्ली कैपिटल्स टीम के कोच हैं। दिल्ली की टीम ने अब तक एक बार भी खिताब नहीं जीता है और वो पोंटिंग के कोच रहते ये उपलब्धि हासिल करने को बेताब है। हालांकि ये टीम श्रेयस की कप्तानी में पिछली बार तीसरे नंबर पर रही थी। इस टीम को इस बार जीत के दावेदार के तौर पर भी देखा जा रहा है। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस