केपटाउन। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज में अच्छा प्रदर्शन करने के बाद सुरेश रैना ने कहा कि वो ऐसा ही प्रदर्शन आइपीएल समेत आगे के टूर्नामेंटों में भी जारी रखना चाहेंगे। रैना ने प्रोटियाज के खिलाफ आखिरी टी20 मैच में 27 गेेंदों पर 43 रन की पारी खेली थी। इसके अलावा उन्होंने 27 रन देकर एक विकेट भी लिया था।  

रैना ने कहा कि इस सीरीज में मिली जीत साथ ही टीम में मेरी वापसी काफी महत्वपूर्ण है। इसके बाद मुझे श्रीलंका में ट्राई सीरीज और फिर आइपीएल में खेलना है। मैं पहले भी विश्व कप में भारतीय टीम का हिस्सा रहा हूं। वर्ष 2011 में मैं विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा था। ये मेरा पहला विश्वकप था  और हमने खिताब जीता। वनडे मैचों में मैंने पांचवें नंबर पर अच्छा प्रदर्शन किया है। मुझे अब जो भी मैच खेलने के मिलेगें उनमें अच्छा प्रदर्शन कर मैं वनडे टीम में जल्द ही वापसी कर सकता हूं। रैना ने भारत के लिए आखिरी वनडे मैच अक्टूबर 2015 में द. अफ्रीका के खिलाफ खेला था। 

द. अफ्रीका में मिली जीत के बारे में रैना ने कहा कि ये टीम के खिलाड़ियों के आत्मविश्वास का परिणाम था। हमने वहां जिस तरह का प्रदर्शन किया उससे ये साबित हो गया है कि एक टीम के तौर पर हम दक्षिण अफ्रीका में क्या हासिल कर सकते हैं। किसी भी टीम ने इससे पहले ऐसा नहीं किया था। 

रैना ने बताया कि उन्हें टी 20 मैचों में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी का मौका मिला और इसकी वजह से वो अच्छा प्रदर्शन कर पाए। उन्होंने कहा कि तीसरे मैच में भुवनेश्वर, जसप्रीत और पांड्या ने अच्छा प्रदर्शन किया। क्रिकेट के सबसे छोटे प्रारूप में ये मायने रखता है कि मैदान पर आपका रवैया कैसा है और हमने दिखाया कि हम सिर्फ और सिर्फ जीत के इरादे से खेल रहे थे। इसी का परिणाम रहा कि हमें जीत मिली। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस