कोलकाता, प्रेट्र। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआइ) के अध्यक्ष सौरव गांगुली का मानना है कि उनके पूर्व साथी राहुल द्रविड़ में भारतीय कोच के रूप में सफल होने के लिए सभी गुण मौजूद हैं। राहुल द्रविड़ को रवि शास्त्री का कार्यकाल खत्म होने के बाद टीम इंडिया का हेड कोच नियुक्त किया गया था। 

सौरव गांगुली को लगता है कि राहुल द्रविड़ में 'प्रखरता, सतर्कता और पेशेवरपन' जैसे गुण हैं जिससे उन्हें भारतीय कोच के रूप में सफल होना चाहिए। गांगुली ने कहा, 'वह (द्रविड़) अपने खेल के दिनों की तरह ही प्रखर, सतर्क और पेशेवर हैं। अंतर केवल इतना है कि अब उन्हें भारत के लिए नंबर तीन पर बल्लेबाजी करने की जरूरत नहीं है, जिसमें उन्हें दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों का सामना करना पड़ा था और उन्होंने लंबे समय तक अपनी भूमिका अच्छी तरह से निभाई।'

उन्होंने कहा कि कोच के रूप में भी वह शानदार भूमिका निभाएंगे क्योंकि वह निष्ठावान हैं और उनके पास कौशल है।' बीसीसीआइ प्रमुख होने के कारण राहुल द्रविड़ को भारतीय कोच नियुक्त करने में सौरव गांगुली की भूमिका अहम रही। राहुल द्रविड़ ने पूर्व कोच रवि शास्त्री की जगह ली।

सौरव गांगुली ने कहा, 'प्रत्येक की तरह वह भी गलतियां करेंगे, लेकिन जब तक आप सही काम करने की कोशिश करते हैं, तब तक आप दूसरों की तुलना में अधिक सफलता हासिल करेंगे।' गांगुली ने हालांकि द्रविड़ की तुलना उनके पूर्ववर्ती रवि शास्त्री से करने से इन्कार कर दिया। सौरव गांगुली ने कहा कि उनका व्यक्तित्व अलग है। एक हमेशा चर्चा में रहता है जो उसका मजबूत पक्ष है जबकि दूसरा सर्वकालिक महान खिलाड़ी होने के बावजूद चुपचाप काम करेगा। दो व्यक्ति एक ही तरह से सफल नहीं हो सकते हैं।'

Edited By: Sanjay Savern