एडिलेड, प्रेट्र। ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क ने कहा कि उनकी टीम को भारत को बैकफुट पर धकेलने के बाद वापसी करने का मौका नहीं देना चाहिए था। ऑस्ट्रेलिया ने एक समय भारत के छह विकेट महज 127 रनों पर गिरा दिए थे।

स्टार्क ने कहा कि मुझे लगता है कि हमने चार घंटों तक अच्छी गेंदबाजी की। शायद इसके अगले आधे घंटे तक भी लेकिन हम अंत में कहीं कमजोर पड़ गए। पुजारा ने काफी समय बल्लेबाजी की। वह ऐसे बल्लेबाज हैं जो दवाब में खेलना पसंद करते हैं और लंबे समय तक खेलते हैं। उन्होंने शानदार शतक जमाया और इसके लिए उन्हें श्रेय जाता है। विकेट के बारे में स्टार्क ने कहा कि आप विकेट को तब तक नहीं परख सकते जब तक दोनों टीमों को इस पर मौके न मिलें। एक अच्छा दिन आपको सीरीज नहीं जिता सकता।

आपको बता दें कि पहले टेस्ट मैच में भारतीय कप्तान विराट ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया लेकिन उनका ये फैसला उनके हक में नहीं रहा। टीम की शुरुआत काफी खराब रही और खुद कप्तान विराट भी तीन रन ही बना पाए। पुजारा ने टीम के लिए 123 रन की धैर्यभरी पारी खेलते हुए स्कोर को पहले दिन 250 तक पहुंचाया। पहली पारी में टॉप ऑर्डर के बल्लेबाजों के अलावा अन्य बल्लेबाज भी कंगारू गेंदबाजों के सामने संघर्ष करते दिखे। सिर्फ पुजारा ही ऐसे बल्लेबाज थे जिन्होंने विरोधी गेंदबाजों का डटकर सामना किया। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern