रवींद्र वैद्य, शहडोल। भारतीय महिला क्रिकेट टीम को राष्ट्रमंडल खेल बर्मिंघम 2022 में भले ही रजत पदक मिला हो, लेकिन टीम ने लोगों का दिल जीत लिया। राष्ट्रमंडल खेल में रजत पदक जीतकर लाना भी बड़ी बात है। यह सब टीम वर्क से ही संभव हुआ है। हमें सपना देखना चाहिए, पर खुली आंखों से और इस सपने को पूरा करने के लिए जी जान लगा देना चाहिए। हम सपना देखें और उसे पूरा करने के लिए जुट जाएं, तभी सफलता कदम चूमेगी। यह बात अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर पूजा वस्त्रकार ने हमारे सहयोगी नई दुनिया से विशेष बातचीत में कही।

दरअसल, पूजा 12 अगस्त की सुबह चार बजे मध्य प्रदेश के शहडोल अपने घर पहुंची थीं और अपने भाइयों को राखी बांधकर परिवार के साथ छह घंटे गुजारने के बाद फिर सुबह दस बजे सड़क मार्ग से रायपुर के लिए निकल गईं। रायपुर से दिल्ली के लिए इनकी फ्लाइट थी। इन्हें प्रधानमंत्री ने 13 अगस्त शनिवार को भोजन पर आमंत्रित किया है।

अब प्रधानमंत्री से मिलने की खुशी

पूजा का कहना है कि हम 13 अगस्त को सुबह दस बजे यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मिलने वाले हैं। यह खुशी भी कम नहीं है। टीम के सभी सदस्य और राष्ट्रमंडल खेल में पदक जीतकर आने वाले सभी 65 खिलाड़ी यहां पर मिलेंगे, यह बेहद खुशी का क्षण होगा।

करियर एक नजर में

पूजा वस्त्रकार का जन्म 25 सितंबर 1999 को शहडोल में हुआ था। इन्होंने 09 मार्च 2013 को ओडिशा के खिलाफ टी -20 मैच से घरेलू खेल की शुरआत की थी। 10 फरवरी 2018 को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेलते हुए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया था। पूजा ने अब तक चार प्रथम श्रेणी, 25 लिस्ट ए क्रिकेट, 17 महिला टी- 20 मैच खेले हैं।

पूजा ने सात जुलाई को श्रीलंका के खिलाफ खेलते हुए भी व‌र्ल्ड रिकार्ड बनाया है। इस मैच में पूजा ने अर्धशतकीय पारी खेली। जब भारतीय टीम के जल्दी-जल्दी विकेट गिर गए थे, तब पूजा ने 65 गेंद पर 56 बनाकर टीम को संभाला था। अंतरराष्ट्रीय महिला विश्वकप 2022 में भारत-पाक के मुकाबले में 59 गेंदों पर आठ चौकों की मदद से 67 रन की पारी खेली थी, इसमें भारत को जीत हासिल हुई थी। इस मैच के बाद पूजा चर्चाओं में आई थीं। इसके अलावा न्यूजीलैंड के खिलाफ खेलते हुए चार विकेट चटकाए थे।

 

Edited By: Viplove Kumar