किंग्सटन, जेएनएन। पाकिस्तान और वेस्टइंडीज के बीच पहले टेस्ट मैच में दुर्भाग्यशाली रहे पाक कप्तान मिस्बाह उल हक ने अपनी टीम का शुक्रिया अदा किया है। मिस्बाह इस टेस्ट में अपनी टीम के खिलाड़ियों की वजह से शतक बनाने से चूक गए थे और 99 रनों पर नाबाद पवेलियन लौटे थे। अगर वह शतक बना लेते तो टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में शतक लगाने वाले सातवें सबसे उम्रदराज खिलाड़ी होते। इसके बावजूद मिस्बाह ने अपनी टीम का शुक्रिया अदा किया है। इस समय मिस्बाह की उम्र करीब 43 साल है। 

मिस्बाह की टीम ने पहले टेस्ट के पांचवें दिन लंच के ठीक बाद सात विकेट से जीत हासिल की। मिस्बाह ने इस जीत को अपने लिए गिफ्ट बताया है और टीम का शुक्रिया अदा किया है। यह मिस्बाह की आखिरी टेस्ट सीरीज है और उन्होंने कहा है कि इस सीरीज में खेल का पूरा लुत्फ ले रहे हैं। 

इस टेस्ट मैच के पांचों दिन बारिश होने की आशंका जताई गई थी। पाकिस्तान की टीम का मनोबल इस समय काफी नीचे है। कोई भी देश पाकिस्तान में जाकर खेलने को तैयार नहीं है। यही नहीं, पाकिस्तान की टीम पर 2019 आइसीसी वनडे विश्वकप के लिए क्वालीफायर खेलने का खतरा भी मंडरा रहा है। इन सब परिस्थितियों के बावजूद पाकिस्तान की टीम ने जीत हासिल की है। इसलिए मिस्बाह और पूरी टीम के लिए यह जीत काफी मायने रखती है। 

मिस्बाह ने पहली पारी में 6 विकेट लेने वाले मोहम्मद आमिर की और दूसरी पारी में 6 विकेट लेने वाले यासिर शाह की जमकर तारीफ की है। 

आइपीएल की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Bharat Singh