लाहौर, एजेंसी। हाल ही में पूर्व कप्तान मिस्बाह उल हक को पाकिस्तान टीम का मुख्य कोच नियुक्त किया गया था। बतौर कोच मिस्बाह उल हक ने पहली वनडे सीरीज में अच्छा काम किया और टीम को श्रीलंका के खिलाफ 2-0 से जीत मिली, लेकिन इसके बाद श्रीलंका की उसी टीम के साथ पाकिस्तान की टीम ने दो T20 इंटरनेशनल मैच खेल लिए हैं, जिसमें टीम को हार मिली है। 

पाकिस्तान को नहीं पचेगी हार

पाकिस्तान के लिए हार पचने वाले नहीं है, क्योंकि श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने खिलाड़ियों के पाकिस्तान दौरे पर नहीं जाने के फैसले के बाद एक कमजोर टीम को पाक दौरे पर भेजा है। इसी कमजोर टीम ने टी20 इंटरनेशनल की आइसीसी रैंकिंग में नंबर वन वाली टीम को धूल चटा दी है। ऐसे में मिस्बाह उल हक ने अपनी टीम से कहा है कि वह बाबर आजम पर ज्यादा निर्भर नहीं रहे।

बाबर के भरोसे पाकिस्तान टीम

तीन मैचों की T20I सीरीज 2-0 से हारने के बाद मिस्बाह उल हक ने अपनी टीम को सलाह देते हुए कहा है, "हम टी-20 में नंबर-एक टीम हैं और अगर आप और गहराई में जाएंगे तो हमारी एकमात्र क्षमता आजम के रन हैं। उन्होंने दो मैचों में रन नहीं किए और हम हार गए।" इसी बात को लेकर मिस्बाह ने कहा कि मुझे लगता है कि हमें छह मैच विजेता खिलाडी चाहिए न कि सिर्फ एक।

मजबूत मिडिल ऑर्डर जिताएगा मैच

उन्होंने आगे कहा, "जब तक आपके पास मध्य क्रम में काबिलियत नहीं होगी और पावर प्ले में रन करने के लिए अच्छा शीर्ष क्रम नहीं होगा तो आप अच्छा नहीं कर सकते। इसी तरह गेंदबाजी में अगर आप पावरप्ले में विकेट नहीं ले सकते और फिर डेथ ओवरों में विकेट नहीं ले सकते तो आप अच्छा नहीं कर सकते। आप संघर्ष करते हैं और मुझे लगता है कि हम हर विभाग में विफल रहे हैं।"

Aus-vs-Ind

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021