गॉल, प्रेट्र। टीम मैन माने जाने वाले स्टार भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने कहा कि वह कभी रिकॉर्ड को दिमाग में लेकर नहीं खेलते। उनके लिए निजी लक्ष्यों से बढ़कर टीम हित है। 

दूसरी पारी में तीन विकेट लेने वाले अश्विन अपने छह साल के करियर में ही सबसे तेजी से 250 टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाज हो गए हैं। उन्हें टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 300 विकेट लेने वाला गेंदबाज बनने के लिए अगले छह टेस्ट में 25 विकेट और लेने हैं। अब तक उनके 50 टेस्ट में 279 विकेट हैं। 

उन्होंने कहा, आंकड़े मेरे लिए मायने नहीं रखते। मेरे लिए टीम हमेशा सबसे पहले है। बचपन से मेरा सपना भारत के लिए खेलना था। मैं भारतीय क्रिकेट को नई ऊंचाइयों तक ले जाना चाहता था। मेरा कोई अलग सपना नहीं था। मुझे किसी आंकड़े तक नहीं पहुंचना है। मैं देश के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना चाहता हूं और इस प्रक्रिया में मैं खुद भी किसी मुकाम तक पहुंच जाऊंगा, यह मुझे पता है।

 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस