नई दिल्ली, आईएएनएस। भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्ते जगजाहिर हैं। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड भी दोनों देशों के रिश्ते को समझते हुए आपस में सीरीज नहीं खेलती है। यहां तक कि एशिया इलेवन की टीम में भी भारत पाकिस्तान के खिलाड़ियों के साथ शामिल नहीं होना चाहता। बांग्लादेश में वर्ल्ड इलेवन के खिलाफ खेले जाने वाले मुकाबले में टीम इंडिया के खिलाड़ी तभी शामिल होंगे जब पाकिस्तानी खिलाड़ी उसमें ना खेलें।

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड अपने देश के फाउंडर शेख मुजीब उर रहमान का जन्मशताब्दी मना रही है। इस मौके पर दो टी20 मैच का आयोजन किया जाना है। बांग्लादेश में इस मौके पर एशिया इलेवन और वर्ल्ड इलेवन के बीच दो टी20 मुकाबला खेला जाएगा। इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल से इन मैच को आधिकारिक दर्जा देने की गुजारिश की गई है। भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्ते को देखते हुए यह साफ है कि मैच में दोनों देशों में से किसी एक टीम के ही खिलाड़ी भाग लेंगे।

भारत पाकिस्तान के साथ नहीं खेलना चाहता है और ऐसे में यह तय है कि एशिया इलेवन की टीम में वह पाकिस्तानी खिलाड़ियों के साथ नहीं शामिल होगा।

BCCI के संयुक्त सचिव जयेश जॉर्ज ने आईएएनएस से बात करते हुए इस बात को साफ किया। उनका करना था कि भारत और पाकिस्तान के खिलाड़ी एशिया इलेवन में होंगे ऐसा कुछ होने ही नहीं वाला है क्योंकि जो संदेश मिला है उसके मुताबिक पाकिस्तान के खिलाड़ियों को न्योता नहीं भेजा जाएगा।

उन्होंने कहा, "जो बात हमें पता है कि एशिया इलेवन की टीम में कोई भी पाकिस्तान का खिलाड़ी नहीं होगा। जो संदेश मिला है उसके मुताबिक तो यह सवाल ही नहीं उठता कि दोनों देश साथ में आ रहे हैं या फिर किसी एक को चुना जाएगा। सौरव गांगुली इस बात को तय करेंगे कि वो कौन से पांच भारतीय खिलाड़ी होंगे जो एशिया इलेवन की टीम में शामिल होंगे।" 

गौरतलब है हाल ही में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन एहसान मनी ने भारत की सुरक्षा को पाकिस्तान से भी खराब बताया था। उन्होंने कहा था, "हमने साबित किया कि पाकिस्तान सुरक्षित है। अगर कोई यहां नहीं आता है तो वह इस बात को साबित करना चाहिए कि यह जगह असुरक्षित है। इस वक्त तो भारत में पाकिस्तान कि तुलना में कहीं ज्यादा सुरक्षा को लेकर खतरा है।" 

 

Posted By: Viplove Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस