चेन्नई, प्रेट्र। बीसीसीआइ के पूर्व अध्यक्ष एन. श्रीनिवासन ने पूर्व भारतीय कप्तान दिलीप वेंगसरकर के उन आरोपों को खारिज किया है जिसमें उन्होंने कहा था कि उनकी मुख्य चयनकर्ता की नौकरी विराट कोहली को चुनने की वजह से चली गई थी।

वेंगसरकर ने आरोप लगाया था कि उनकी नौकरी सिर्फ इस वजह से चली गई थी कि उन्होंने 2008 में दक्षिण भारत के एस बद्रीनाथ की जगह विराट कोहली को चुना था क्योंकि उस समय श्रीनिवासन बीसीसीआइ के कोषाध्यक्ष थे। श्रीनिवासन ने कहा कि वह (वेंगसरकर) किस बिना पर वह बोल रहे हैं, उनकी मंशा क्या है, यह सही नहीं है। जब एक क्रिकेटर ऐसी बातें करता है, तब यह अच्छा नहीं होता। साथ ही श्रीनिवासन ने कहा कि मैं एक क्रिकेटर के रूप में उनकी इज्जत करता हूं और हमने उनके साथ एक हीरो की तरह बर्ताव किया।

चीफ मेंटर बने दिलीप वेंगसरकर

पूर्व भारतीय कप्तान दिलीप वेंगसरकर को टी-20 मुंबई लीग में चीफ मेंटर बनाया गया है जिसकी शुरुआत 11 मार्च को होगी। इसकी घोषणा मुंबई क्रिकेट संघ और स्पो‌र्ट्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने की है। भारत की ओर से खेलने से पहले वेंगसरकर मुंबई के लिए क्रिकेट खेला करते थे। साथ ही वह भारतीय टीम की चयन समिति के चेयरमैन भी रहे हैं। मुंबई टी-20 लीग के चीफ मेंटर चुने जाने के बाद वेंगसरकर ने कहा कि चीफ मेंटर होने के नाते मेरा लक्ष्य युवा क्रिकेटरों को घरेलू स्तर पर प्रोत्साहित करने की होगी। यह मुंबई के क्रिकेटरों के लिए अपनी चमक बिखरना का अच्छा मंच है। मालूम हो कि 11 से 21 मार्च तक चलने वाले इस टूर्नामेंट में मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को एंबेसडर बनाया गया है जबकि पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर को लीग का कमिश्नर नियुक्त किया गया है।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

By Sanjay Savern