चेन्नई, जेएनएन। भारतीय टेस्ट टीम से बाहर किये जाने के बाद एसेक्स के लिए खेलते समय मुरली विजय ने अपनी खोई हुई फॉर्म को फिर से हासिल कर लिया है लेकिन इस सलामी बल्लेबाज ने कहा कि उन्होंने काउंटी खेलने के दौरान अपनी तकनीक में कोई बदलाव नही किया और ना ही भारतीय टीम में फिर जगह पाने के लिए वह काउंटी खेल रहे थे।

तमिलनाडु के इस सलामी बल्लेबाज ने इंग्लैंड में पहले दो टेस्ट में 20, 6 , 0 और 0 रन बनाए जिसकी वजह से उन्हें बाहर कर दिया गया था। इसके बाद एसेक्स के लिए खेलते हुए उन्होंने एक शतक और तीन अर्धशतक जड़े।

विजय ने कहा, ‘मैने कोई बदलाव नहीं किया। वहां खेलने में मजा आया क्योंकि खेलना आसान नहीं था। मैं एसेक्स का शुक्रगुजार हूं जिसने यह मौका दिया। वहां का अनुभव मेरे काफी काम आयेगा।’

उन्होंने डिंडिगुल में मध्यप्रदेश के खिलाफ पहले रणजी ट्रॉफी मैच के बाद कहा ,‘मैं भारतीय टीम में जगह दोबारा पाने के लिए काउंटी खेलने नहीं गया था। मुझे महसूस हुआ कि अच्छा क्रिकेट खेलने की जरूरत है जिसका मौका वहां मिलेगा।’

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal