नई दिल्ली, एजेंसी। MSK Prasad on Rishabh Pant: अखिल भारतीय सीनियर चयन समिति ने सोमवार को श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम का ऐलान किया। इसी दौरान भारतीय टीम के मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत को लेकर भी अपना बयान दिया जो विकेट के पीछे काफी संघर्ष कर रहे हैं।

चीफ सलेक्टर एमएसके प्रसाद ने कहा है कि विकेट के पीछे संघर्ष कर रहे रिषभ पंत की विकेटकीपिंग में सुधार के लिए एक विशेषज्ञ को नियुक्त किया जाएगा। पंत ने कुछ समय पहले भी विकेटकीपिंग में सुधार के लिए पूर्व भारतीय विकेटकीपर किरन मोरे की देखरेख में काम किया था। वेस्टइंडीज के खिलाफ रविवार को तीसरे वनडे मैच में पंत ने कई कैच टपकाये जिसके बाद वह प्रशंसकों के निशाने पर आ गए।

विकेटकीपिंग में पंत को सुधार करना होगा

टीम चयन के मौके पर प्रसाद ने कहा कि पंत को अपनी विकेटकीपिंग में सुधार करना होगा। हम उसके लिए विशेषज्ञ विकेटकीपिंग कोच रखेंगे। 22 साल के इस विकेटकीपर को टीम प्रबंधन का पूरा साथ मिल रहा है लेकिन उन्हें लगता है कि पंत को विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। अक्सर जब रिषभ पंत खराब विकेटकीपिंग करते हैं तो स्टेडियम में मौजूद दर्शक धौनी-धौनी चिल्लाते हैं, जिससे युवा खिलाड़ी का मनोबल गिरता है।

मैदान पर धौनी-धौनी चिल्लाते हैं दर्शक

युवा विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत के खराब प्रदर्शन के कारण बांग्लादेश और वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली गई घरेलू सीरीज के दौरान भी ऐसा ही कुछ देखा जब मैदान में मौजूद दर्शक बार-बार धौनी का नाम ले रहे थे। कप्तान विराट कोहली ने कहा था कि रिषभ पंत की जगह धौनी का नाम लेना इस युवा खिलाड़ी के लिए अपमान होगा। बता दें कि 15 साल तक भारतीय क्रिकेट से जुड़े रहे धौनी ने बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज एक अलग छवि बनाई हुई है।

ये भी पढ़ेंः साल 2019 के बिग बॉस रोहित शर्मा को रहा इस बात का मलाल, आखिरकार किया खुलासा

 

Posted By: Vikash Gaur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस