नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष एन श्रीनिवासन ने बताया कि पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी टीम को एकजुट रखने में विश्वास रखते हैं। उन्होंने एक घटना को याद करते हुए कहा कि वह टीम का मौहाल खराब ना हो इस वजह से कई बार अच्छे खिलाड़ियों को भी बाहर रखने से नहीं कतराते।

इंडियन प्रीमियर लीग की फ्रेंचाइजी टीम चेन्नई सुपर किंग्स जिसकी धौनी कप्तानी करते हैं वह इसे बनाने के लिए काफी प्लानिंग करते हैं। टीम के मालिक श्रीनिवासन ने ESPNcricinfo को बताया कि धौनी ने एक बार उनकी सिफारिश को भी मना कर दिया था। वह चाहते थे कि एक खिलाड़ी चेन्नई टीम का हिस्सा बने लेकिन उसके अंदर टीम भावना नहीं थी, जिसकी वजह से धौनी ने उनको मना कर दिया।

श्रीनिवासन ने बताया, "एक बहुत ही बेहतरीन खिलाड़ी था जिसके बारे में हमने धौनी को सलाह दी थी लेकिन उन्होंने ना कर दिया। उनका कहना था नहीं सर, यह टीम को खराब कर देगा, टीम के अंदर एकजुटता बनी रहनी सबसे ज्यादा जरूरी है। देखिए कैसे अमेरिका में फ्रेंचाइजी पर आधारित खेल लंबे समय तक सफल होता रहा है।"

तीन बार IPL चैंपियन बनीं चेन्नई

इंडियन प्रीमियर लीग के पहले सीजन से ही धौनी के हाथों में चेन्नई की कप्तानी रही है। टीम ने पहले सीजन में फाइनल तक का सफर तय किया था लेकिन वह राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ रोमांचक मुकाबले में हार गई। साल 2010 और 2011 में लगातार दो बार टीम ने यह खिताब जीता। IPL का तीसरा खिताब जीतकर टीम ने इसकी शुरुआत की। साल 2016 और 2017 में टीम प्रतिबंध की वजह से बाहर रही लेकिन 2018 में धौनी की टीम ने खिताबी जीत के साथ धमाकेदार वापसी की।

आशीष नेहरा बोले, MS Dhoni ने भारत के लिए अपना आखिरी मैच खेल लिया, संन्यास की घोषणा का इंतजार

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस