नई दिल्ली, जेएनएन। वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के बेहतरीन ऑलराउंजर ड्वेन ब्रावो ने टीम इंडिया के पू्र्व कप्तान एमएस धौनी की खूब तारीफ की है। ब्रावो का ऐसा मानना है कि अगर कोई खिलाड़ी चेन्नई सुपर किंग्स यानी सीएसके के साथ जुड़ता है तो धौनी के लीडरशिप यानी कप्तानी में उस खिलाड़ी के करियर को एक नई जिंदगी मिल जाती है। इसके लिए ब्रावो ने खुद का साथ ही अंबाती रायुडू और शेन वॉटसन का नाम उदाहरण के तौर पर लिया। ब्रावो सीएसके टीम के साथ साल 2011 में जुड़े थे। 

ड्वेन ब्रावो ने एक लाइव चैट के दौरान अपनी बात सामने रखते हुए कहा कि सीएसके के ड्रेसिंग रूम में कई शानदार कप्तान रहे हैं। इसमें फॉफ डु प्लेसिस, माइक हसी, ब्रैंडन मैकुलम व खुद मैं भी शामिल हूं। हम सभी अपनी-अपनी टीमों के शानदार कप्तान रहे हैं, लेकिन जब कोई सीएसके के साथ जुड़ता है तो धौनी उनके कहते हैं कि आप योग्य हैं इस वजह से यहां पर हैं। आपको यहां पर खुद को साबित करने की जरूरत नहीं है और आप अपने-अपने नैचुरल खेल का प्रदर्शन करो। 

ड्वेड ब्रावो ने तो धौनी को क्रिकेटरों का मसीहा करार देते हुए कहा कि जब कोई खिलाड़ी चेन्नई की टीम में आता है तो उनका करियर और निखर जाता है और उस खिलाड़ी के करियर को एक नया मुकाम मिलता है। कुछ साल पहले शेन वॉटसन को हमने देखा और उसके बाद मुंबई की टीम से चेन्नई में आए अंबाती रायुडू को ही देखिए। इन सभी खिलाड़ियों का करियर किस तरह से निखर गया और एक नए मुकाम पर पहुंचा। 

ब्रावो ने धौनी की तारीफ करते हुए कहा कि वो कभी किसी भी खिलाड़ी पर किसी तरह के कोई दवाब नहीं बनाते हैं। जब वो टीम के साथ होते हैं तो खिलाड़ियों के लिए उनके दरवाजे हमेशा ही खुले होते हैं। टीम में धौनी इस तरह का माहौल बनाते हैं कि सब अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने लगते हैं। धौनी की सफलता का भी शायद यही रहस्य है कि वो अपने खिलाड़िओं से बेस्ट प्रदर्शन करवाना जानते हैं। 

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस