सिडनी, प्रेट्र। भारतीय तेज गेंदबाज मुहम्मद शमी आइपीएल में शानदार प्रदर्शन के बाद अच्छी लय में हैं, जिससे वह बिना किसी दबाव के ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बड़ी टेस्ट सीरीज के लिए तैयारी कर पाए। शमी का यह आइपीएल सत्र सर्वश्रेष्ठ रहा जिसमें उन्होंने किंग्स इलेवन पंजाब के लिए 20 विकेट चटकाए, जिसमें मुंबई इंडियंस के खिलाफ डबल सुपर ओवर मैच में पांच रन का शानदार बचाव करना भी शामिल रहा। शमी ने शनिवार को कहा, आइपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब के लिए मेरे प्रदर्शन ने मुझे काफी आत्मविश्वास दिया और मुझे सही स्थिति में पहुंचा दिया। शमी को लगता है कि आइपीएल में अच्छे प्रदर्शन ने उन पर से दबाव हटा दिया।

उन्होंने कहा, सबसे बड़ा फायदा यह है कि मैं अब बिना किसी दबाव के आगामी सीरीज के लिए तैयारी कर सकता हूं। मेरे ऊपर कोई दबाव नहीं है। मैं इस समय काफी सहज हूं। मैंने लॉकडाउन में अपनी गेंदबाजी और अपनी फिटनेस पर काफी काम किया है। मैं जानता था कि आइपीएल का आयोजन होना ही है और मैं इसके लिए खुद ही तैयारी में जुटा था।

शमी ने कहा कि इस दौरे पर टेस्ट मैच उनके लिए प्राथमिकता हैं और वह पिछले एक हफ्ते से ट्रेनिंग सत्र के दौरान कड़ी मेहनत कर रहे हैं। उन्होंने कहा, यह दौरा काफी लंबा होगा जिसकी शुरुआत सफेद गेंद के क्रिकेट से होगी जिसके बाद गुलाबी और लाल गेंद के टेस्ट खेले जाएंगे। मेरा ध्यान हमेशा लाल गेंद का क्रिकेट रहा है और मैं अपनी लेंथ और सीम मूवमेंट पर काम कर रहा हूं।

आपको बता दें कि भारत व ऑस्ट्रेलिया के बीच इस बार क्रिकेट सीरीज की शुरुआत तीन वनडे मुकाबलों के साथ होगी जिसकी शुरुआत 27 नवंबर से होगी। इसके बाद तीन मैचों की टी20 सीरीज खेली जाएगी और फिर चार मैचों की टेस्ट सीरीज का आयोजन किया जाएगा। चार मैचों की टेस्ट सीरीज की शुरुआत 17 दिसंबर से होगी। 

Aus-vs-Ind

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस